Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » You Can Know Nature And Future According To Foot Shape

भविष्य पुराण : कोमल और भरे हुए पैर वाले पुरुष होते हैं भाग्यशाली, पैरों की बनावट से जान सकते हैं भविष्य और स्वभाव

ज्योतिष के अलावा हमारे शास्त्रों में भी व्यक्ति की शारीरिक बनावट को लेकर कई ऐसी बातें बताई हैं।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 18, 2018, 04:49 PM IST

भविष्य पुराण : कोमल और भरे हुए पैर वाले पुरुष होते हैं भाग्यशाली, पैरों की बनावट से जान सकते हैं भविष्य और स्वभाव, religion hindi news, rashifal news

रिलिजन डेस्क.ज्योतिष के अलावा हमारे शास्त्रों में भी व्यक्ति की शारीरिक बनावट को लेकर कई ऐसी बातें बताई हैं जिससे उस व्यक्ति का न केवल स्वभाव बल्कि भविष्य के बारे में भी जाना जा सकता है। भविष्य पुराण के अनुसार व्यक्ति के पैरों की बनावट के आधार पर उसके स्वभाव और भविष्य की जानकारी मिल सकती है। इसके अनुसार कोमल, भरे हुए और सुडोल पैर वाले पुरूषों को भग्यशाली माना गया है। इस पुराण के ब्राह्म पर्व में ब्रह्माजी ने सुमन्तु मुनि को पुरुषों के पैरों के आधार पर शुभ-अशुभ लक्षण बताए हैं, यहां जानिए ये लक्षण कौन-कौन से हैं…
- ऐसा पुरुष जिसके पैर कोमल, भरे हुए, लाल, सुंदर और सुडोल हो, ऐसे व्यक्ति का जीवन सुखमय गुजरता है।
- जिन लोगों के पैर भरे हुए हो और नसें नहीं दिखती हो, वो लोग भाग्यशाली होते हैं।
- पुरुष के पैर कोमल हैं, पैर की उंगलियां परस्पर मिली हुई हैं, वह हमेशा किस्मत का साथ पाता है।
- जिन पुरुषों के पैर रुखे, नाखून सफेद, उंगलियां अव्यवस्थित होती हैं, वे गरीबी का सामना करते हैं।
- जिस पुरुष के पैर का तलवा एकदम काला जली हुई मिट्टी की तरह होता है, वह जीवन में अधिकतर दुखी ही रहता है।
- जिस व्यक्ति के पैर का तलवा पीला दिखता है, वह गलत काम कर सकता है और बीमारियों से परेशान रहता है।
- जिस पुरुष के पैरों में अंगूठे बहुत ज्यादा मोटे होते हैं, वे गरीब रहते हैं।
भविष्य पुराण
- भविष्य पुराण 18 प्रमुख पुराणों में से एक है। 215 अध्याय वाले इस पुराण में धर्म, सदाचार, नीति, उपदेश, अनेकों आख्यान, व्रत, तीर्थ, दान, ज्योतिष एवं आयुर्वेद के बारे में विस्तार से बताया गया है।
- महर्षि वेद व्यास द्वारा रचित इस पुराण में भविष्य में होने वाली घटनाओं का वर्णन किया है। इसमें कई घटनाओं के बारे में उन्होने होने से पहले ही बता दिया था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×