Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Jyotish Nidaan» What To Do In 7 Days According To Astrology

इंवेस्टमेंट में चाहिए उम्मीद से ज्यादा फायदा तो बुधवार से करें शुरुआत, गुरुवार को खरीदनी चाहिए ज्वेलरी, 2000 साल पुराने ग्रंथ में लिखा है कौन सा काम किस दिन करें

बृहत्संहिता में वराह मिहिर ने ग्रहों के स्वभाव को देखते हुए बताया कि किस दिन कौन सा काम करने से सितारों का साथ मिलता है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 12, 2018, 05:13 PM IST

इंवेस्टमेंट में चाहिए उम्मीद से ज्यादा फायदा तो बुधवार से करें शुरुआत, गुरुवार को खरीदनी चाहिए ज्वेलरी, 2000 साल पुराने ग्रंथ में लिखा है कौन सा काम किस दिन करें, religion hindi news, rashifal news

रिलिजन डेस्क. बृहत्संहिता में वराह मिहिर ने ग्रहों के स्वभाव के बारे में कुछ बातें बताई हैं। ग्रहों के स्वभाव को देखते हुए उन्होनें बताया कि किस दिन कौन सा काम करने से सफलता मिलती है। कुछ लोगों को मेहनत के बाद भी सफलता नहीं मिलती और काम अधूरे रहते हैं तो किसी खास काम के लिए गलत दिन चुनना भी इसकी एक वजह हो सकती है। ज्योतिष ग्रंथ के अनुसार जानिए किस दिन कौन सा काम करने से सितारों का साथ मिलता है।

सोमवार- बीज बोना, बगीचे में फल के वृक्ष लगाना, गवाही देना, पार्टनरशिप शुरू करना, औषधियों का सेवन करना, नए कपड़े या रत्न पहनना, घूमने जाना, महिलाओं से जुड़े काम और अन्य नए कामों की शुरुआत करने के लिए सोमवार शुभ होता है।

मंगलवार -कृषि संबंधी यंत्रों की खरीदी, प्रॉपर्टी डीलिंग, ब्रोकरशिप, रक्तदान, आग संबंधी काम, सेना-युद्ध और पुलिस और सेना से संबंधी काम, मुकदमें, वाद-विवाद का फैसला, जैसे कामों के लिए मंगलवार शुभ है। मंगलवार को उधार नहीं लेना चाहिए।

बुधवार - उधार देना, पढ़ाई संबंधी किसी नए काम की शुरुआत, दलाली-कमीशन के कार्य, डाक विभाग संबंधी कार्य,मामा पक्ष संबंधी कार्य, दुकान-ऑफिस के नए अकाउंड बनाना, हिसाब करना, घर-दुकान का निर्माण कार्य, तंत्र-मंत्र, कुटनीति, नोटिस देना या गृहप्रवेश करना बुधवार को अच्छा माना जाता है।

गुरुवार -बैंकिंग, पुस्तकालय, राजनीति, धर्म, आध्यात्म संबंधित काम, यज्ञ-अनुष्ठान, कला संबंधित शिक्षा की शुरुआत, गृह शांति पूजन, तीर्थ यात्रा, पूजा-पाठ की शुरुवात, अनाज या भोजन भण्डारण, नई नौकरी या नया पद लेना, नई ज्वेलरी पहनना, नया वाहन चलाना, दवाइयों का सेवन शुरु करना इन कामों की शुरुआत गुरुवार से की जा सकती है।

शुक्रवार- पारिवारिक काम या बिजनेस की शुरुआत, प्रेम-प्रसंग की शुरुआत, कपड़े, सुगंधित वस्तुएं, वाहन और भोग-विलास की सामग्री की खरीददारी, नए लोगों से दोस्ती, निर्माण काम की शुरुआत, फिल्म, संगीत, नृत्य और विवाह आदि के लिए शुक्रवार शुभ है। साथ ही चांदी, हाथी दांत आदी से बनी एंटीक ज्वैलरी और बेडरूम आर्टिकल्स की खरीददारी के लिए शुक्रवार को शुभ माना गया है।

शनिवार -प्रिंटिंग प्रेस, पुरातत्व विभाग संबंधी कार्य, मजदूरी, ठेकेदारी, नए घर में प्रवेश करना, नौकर रखना, धातु मशीनरी से संबंधित काम, गवाही देना, पुराने व्यापार को फिर से शुरू करना, वाद-विवाद का निपटारा, न्याय प्राप्ति के लिए मुकदमा शुरू करना, कबाड़ या पुराना सामान बेचना, आदि काम शनिवार को किए जा सकते हैं। बीज बोना, कृषि संबंधित काम शनिवार से प्रारंभ नहीं करना चाहिए।

रविवार -रविवार से दवाइयों का सेवन का शुरू कर सकते हैं, इसके अलावा वाहन या पशु खरीदी, यज्ञ, पूजन, अस्त्र-शस्त्र-वस्त्र की खरीदी, धातु की खरीदी कर सकते हैं। साथ ही वाद-विवाद खत्म करने के लिए बातचीत या सलाह लेना शुभ होगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×