Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Unfortunate Work, These Work Comes Bad Times, Misfortune In Daily Work

6 काम जो बढ़ाते हैं दुर्भाग्य, थाली में झूठा छोड़ने से खत्म होती है बरकत

ये छोटी-छोटी गलतियां करने से हमारा दुर्भाग्य बढ़ता है और सौभाग्य कम होता है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 29, 2018, 11:49 AM IST

  • 6 काम जो बढ़ाते हैं दुर्भाग्य, थाली में झूठा छोड़ने से खत्म होती है बरकत, religion hindi news, rashifal news

    रिलिजन डेस्क। हम हमारे दैनिक जीवन में कई ऐसी गलतियां करते हैं, जो देखने में भले ही सामान्य लगे, लेकिन भविष्य में हमें इनके बुरे परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। ये छोटी-छोटी गलतियां करने से हमारा दुर्भाग्य बढ़ता है और सौभाग्य कम होता है। इनकी वजह से हमारा कोई भी काम पूरा नहीं हो पाता और होता है उसका सकारात्मक परिणाम नहीं मिल पाता।
    उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, आज हम आपको कुछ ऐसे ही कामों के बारे में बता रहे हैं, जिनकी वजह से हमारे जीवन में परेशानियां लगातार बनी रहती हैं। अगर हम अपने दैनिक जीवन में इन बातों का ध्यान रखें तो बुरे दिन खत्म हो सकते हैं और जीवन में फिर से खुशहाली आ सकती है। ये काम इस प्रकार हैं-

    1. थाली में कभी खाना झूठा नहीं छोड़ना चाहिए। ऐसा करने से घर की बरकत खत्म हो जाती है।
    2. सुबह बिना स्नान किए पूजा के फूल या तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ना चाहिए। इससे भी जीवन में परेशानियां बनी रहती हैं।
    3. पलंग यानी बेड पर बैठकर कभी भोजन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से जीवन में पैसों की कमी बनी रहती है।
    4. रात में कभी-भी बर्तन बिना धोए नहीं छोड़ना चाहिए। इससे परिवार में वाद-विवाद की स्थिति बनी रहती है।
    5. कभी किसी दूसरे के कपड़े या जूते नहीं पहनना चाहिए। इससे भी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
    6. जब भी घर कोई याचक यानी भिखारी आए तो उसे खाली हाथ न लौटाएं। ज्यादा कुछ संभव न हो तो उसे खाने के लिए कुछ जरूर दें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Unfortunate Work, These Work Comes Bad Times, Misfortune In Daily Work
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×