Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm Granth » This Is The Ek Shaloki Bhagvat.

सिर्फ आधा घंटे ऐसे करें पूजा, मिल सकता है संपूर्ण भागवत पढ़ने का फल

आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में किसी के पास भी पूजा के लिए अधिक समय नहीं होता।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 12, 2018, 01:41 PM IST

  • सिर्फ आधा घंटे ऐसे करें पूजा, मिल सकता है संपूर्ण भागवत पढ़ने का फल
    +1और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क. आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में किसी के पास भी पूजा के लिए अधिक समय नहीं होता। लोग पूजा करना तो चाहते हैं लेकिन पर्याप्त समय न होने के कारण वे ऐसा कर नहीं पाते। ऐसी स्थिति में पूजा की संक्षिप्त विधि अपनाकर पूजा का पूरा फल पाया जाता है। ये पूजा विधि बहुत ही आसान है। जो कोई भी बहुत ही आसानी से कर सकता है।
    आज हम आपको एक ऐसा मंत्र बता रहे हैं। रोज जिसका जाप करने से संपूर्ण श्रीमद्भागवत पढ़ने का फल मिल सकता है। इस मंत्र के जाप की विधि भी बहुत ही आसान है। उज्जैन के पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, इस मंत्र को एक श्लोकी भागवत कहते हैं। भागवत का पाठ करने से जो पुण्य मिलता है, वही फल इस मंत्र के जाप से भी पाया जा सकता है।


    ये है एक श्लोकी भागवत मंत्र
    देवकी देव गर्भजननं, गोपी गृहे वद्र्धनम्।
    माया पूज निकासु ताप हरणं गौवद्र्धनोधरणम्।।
    कंसच्छेदनं कौरवादिहननं, कुंतीसुपाजालनम्।
    एतद् श्रीमद्भागवतम् पुराण कथितं श्रीकृष्ण लीलामृतम्।।
    अच्युतं केशवं रामनारायणं कृष्ण:दामोदरं वासुदेवं हरे।
    श्रीधरं माधवं गोपिकावल्लभं जानकी नायकं रामचन्द्रं भजे।।

    जाप विधि
    1. सुबह जल्दी नहाकर, साफ वस्त्र पहनकर भगवान श्रीकृष्ण के चित्र की पूजा करें।
    2. भगवान श्रीकृष्ण के चित्र के सामने आसन लगाकर तुलसी की माला लेकर इस मंत्र का जाप करें। प्रतिदिन पांच माला जप करने से उत्तम फल मिलता है।
    3. आसन कुश का हो तो अच्छा रहता है।
    4. एक ही समय, आसन व माला हो तो यह मंत्र जल्दी ही सिद्ध हो जाता है।

    ये भी पढ़ें-

    18 अप्रैल को घर लाएं इन 9 में से कोई 1 चीज, महालक्ष्मी दूर करेंगी बैड लक

    शनि की टेढ़ी चाल करेगी इन 6 राशियों को परेशान, बचने के लिए करें ये उपाय

  • सिर्फ आधा घंटे ऐसे करें पूजा, मिल सकता है संपूर्ण भागवत पढ़ने का फल
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×