Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Shani Ke Upay, Shani Sadesati And Shani Dhayya, Worship Method For Shanidev

शनिवार को करेंगे 5 काम तो साढ़ेसाती और ढय्या में भी चमक सकती है किस्मत

मान्यता है कि शनि की पूजा से बड़ी-बड़ी परेशानियां भी दूर हो सकती हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 16, 2018, 11:38 AM IST

    • रिलिजन डेस्क।ज्योतिष में शनि को न्यायाधीश माना गया है। जिन लोगों की कुंडली में ये ग्रह शुभ स्थिति में होता है, उनके जीवन में सुख बना रहता है। आमतौर पर शनि की साढ़ेसाती और ढय्या में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस समय वृश्चिक, धनु और मकर राशि पर साढ़ेसाती चल रही है। वृषभ और कन्या पर शनि का ढय्या है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार शनि अभी धनु राशि में है। हर शनिवार शनि के उपाय किए जाए तो साढ़ेसाती और ढय्या में भी व्यक्ति की किस्मत चमक सकती है। जानिए शनि के उपाय...

      पहला उपाय

      किसी मंदिर जाएं और शनिदेव के 10 नामों के मंत्र का या इनके 10 नामों का जाप 108 बार करें।

      कोणस्थ पिंगलो बभ्रु: कृष्णो रौद्रोन्तको यम:।

      सौरि: शनैश्चरो मंद: पिप्पलादेन संस्तुत:।।

      शनि के 10 नाम- कोणस्थ, पिंगल, बभ्रु, कृष्ण, रौद्रान्तक, यम, सौरि, शनैश्चर, मंद और पिप्पलाद।

      इन दस नामों को शनिवार के दिन पढ़ने से शनि के साढ़ेसाती से संबंधित सारे कष्ट दूर हो जाते हैं।

      दूसरा उपाय

      शनिवार को सूर्यास्त के बाद मंदिर जाएं और पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। हनुमान चालीसा का पाठ करें। भगवान से परेशानियां दूर करने की प्रार्थना करें।

      तीसरा उपाय

      शनि को नीले फूल चढ़ाएं। ऊँ शं शनैश्चराय नमः मंत्र का जाप 108 बार करें।

      चौथा उपाय

      शनिदेव के लिए काले तिल, काली उड़द, काले छाते का दान करें।

      पांचवां उपाय

      सुबह स्नान के बाद एक कटोरी में तेल लेकर अपना चेहरा उसमें देखें। इसके बाद तेल का दान करें।

    • शनिवार को करेंगे 5 काम तो साढ़ेसाती और ढय्या में भी चमक सकती है किस्मत, religion hindi news, rashifal news
      +2और स्लाइड देखें
    • शनिवार को करेंगे 5 काम तो साढ़ेसाती और ढय्या में भी चमक सकती है किस्मत, religion hindi news, rashifal news
      +2और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    Trending

    Top
    ×