Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Jyotish Nidaan » Remedy For Friday To Get Bless Of Shukradev And Laxmi Mata

सुख-समृद्धि के लिए शुक्रवार को करें ये उपाए, प्रॉपर्टी से जुड़े मामलों में हो सकता है फायदा

ज्योतिष के अनुसार में शुक्र ग्रह को पैसा, सुख और प्रसिद्धि देने वाला माना गया है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 19, 2018, 07:11 PM IST

सुख-समृद्धि के लिए शुक्रवार को करें ये उपाए, प्रॉपर्टी से जुड़े मामलों में हो सकता है फायदा, religion hindi news, rashifal news

रिलिजन डेस्क. ज्योतिष के अनुसार में शुक्र ग्रह को पैसा, सुख और प्रसिद्धि देने वाला माना गया है। लेकिन शुक्र अगर अशुभ स्थिति में हो तो व्यक्ति को सुख-सुविधाएं नहीं मिल पातीं। इसके अलावा उसे वैवाहिक जीवन में भी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं शुक्रवार लक्ष्मी जी का भी दिन है। इसीलिए इन दोनों की कृपा प्राप्त करने के लिए शुक्रवार को कुछ खास उपाय करने चाहिए। इससे प्रॉपर्टी से जुड़े मामलों में भी फायदा हो सकता है और सुख समृद्धि भी बढ़ती है।

उपाय

- मंदिर में घी का दान करना लाभदायक रहता है।
- किसी जरूरतमंद को रूई का दान करना चाहिए।
- देवी मंदिर में इत्र दान करना चाहिए।
- लक्ष्मी जी को खीर का नैवेद्य लगाना।
- हर शुक्रवार गाय को हरी घास खिलाएं। ऐसा करने से देवी लक्ष्मी की कृपा मिल सकती है।
- किसी गरीब या जरुरतमंद व्यक्ति को सफेद चीजों का दान करें। जैसे दूध, खीर, मिठाई का दान कर सकते हैं।
- नहाते समय पानी में सफेद फूल डालकर नहाने से भी शुक्र ग्रह के दोष खत्म होते हैं।
- विवाहित स्त्री को सुहाग का सामान जैसे चूड़ियां, कुमकुम, लाल साड़ी दान करें। इस उपाय से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं।
- शुभ फल पाने के लिए शुक्रवार को 108 बार शुक्र मंत्र का जप करें।शुक्र मंत्र - द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:।
- शुक्र दोष निवारण के लिए इस दिन चांदी, चावल, मिश्री, सफेद वस्त्र, दही, सफेद चंदन का दान करना चाहिए।
शुक्र माना जाता है सुंदरता प्रतीक
- यह ग्रह सुंदरताऔर युवा किशोर अवस्था का प्रतीक है। इसके देवता इंद्र हैं। इसका वाहन भी अश्व है।

- शुक्र को स्त्रीग्रह, वीर्य, प्रेम, आकर्षण, सुंदरता, धन संपत्ति, व्यवसाय आदि सुखों का कारक माना जाता है। इसके अलावा इन्हे भोग विलास का कारक भी माना जाता है।

अशुभ शुक्र के प्रभाव
- शुक्र अगर अशुभ है आर्थिक कष्ट, स्त्री सुख में कमी, वैवाहिक जीवन में अशांति, गर्भाशय संबंधी और गुप्त रोगों की संभावना बढ जाती है।

- शुक्र यदि किसी पापी स्वभाव वाले ग्रह के साथ हो तो व्यक्ति यह कामवासना भडकाने का काम करते है जिससे बलात्कार या इससे संबंधित अन्य अपराध जैसी परिस्थितियां बनने लगती हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×