Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Palmistry And Lines Of Palm How To Read Palmistry

हमेशा एक सी नहीं रहतीं हाथ की रेखाएं, कर्म और ग्रह स्थिति के हिसाब से पूर्णिमा से पहले बढ़ती हैं, अमावस्या से पहले हथेली पर बनते हैं अशुभ चिन्ह

चंद्रमा के आकार और गति का पड़ता है हाथ की रेखाओं पर असर, हथेली का रंग भी बदलता है

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 16, 2018, 11:39 AM IST

हमेशा एक सी नहीं रहतीं हाथ की रेखाएं, कर्म और ग्रह स्थिति के हिसाब से पूर्णिमा से पहले बढ़ती हैं, अमावस्या से पहले हथेली पर बनते हैं अशुभ चिन्ह, religion hindi news, rashifal news

रिलिजन डेस्क.हथेली की रेखाएं हमेशा एक जैसी नहीं रहती। समय और हमारे कर्मों के हिसाब से इनका रंग और आकार बदलता रहता है। इनका संबंध चंद्रमा के आकार और गति से भी जुड़ा है। अक्सर शुक्ल पक्ष (अमावस्या के अगले दिन से पूर्णिमा तक) में हथेली की रेखाओं में बदलाव देखे जा सकते हैं। कभी-कभी ये बदलाव बहुत छोटे होते हैं, तो कभी बहुत बड़े भी हो सकते हैं। इस दौरान रेखाएं बढ़ती हैं। वहीं कृष्ण पक्ष (पूर्णिमा के अगले दिन से अमावस्या तक) में कृष्णपक्ष में हाथ की रेखाओं का कटना, धुंधला होना और छोटा होना देखा जा सकता है। आमतौर पर हथेली लाल दिखाई देती हैं, लेकिन कभी-कभी सफेद, भूरी और पीली दिखती है। इसके अलावा हथेली में कभी-कभी हल्का सा कालापन भी दिखाई देता है। सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार लाल, गुलाबी व सफेद हथेलियों के प्रभाव को शुभ व अन्य रंगों की हथेलियों को अशुभ माना जाता है।
क्यों होता है ऐसा?
- इंसान के कर्मों और उसके मन की इच्छाओं के आधार पर हथेलियों का रंग भी बदलता रहता है।
- जीवन के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण और धार्मिक विचार व्यक्ति के मन में ऐसा बदलाव कर देते हैं कि शरीर में पॉजीटिव एनर्जी बढ़ने लगती है।
- जिससे हाथों में ही नहीं, बल्कि व्यक्तित्व में भी बदलाव होने लगता है।
जानिए क्या कहता है आपकी हथेली का रंग?
सफेद हथेली वाले होते हैं अध्यात्मिक
- जिन लोगों की हथेली सफेद होती है, वे धर्म को मानने वाले व दिव्य शक्तियों में रुचि रखने वाले होते हैं।
- ऐसे लोग शांति प्रिय होते हैं। एकांत में रहना भी इनकी आदत हो सकती है।
- ऐसे लोग न तो दुख में दुखी होते हैं और न ही सुख में ज्यादा खुश होते हैं। ये लोग एक जैसे स्वभाव वाले होते हैं।
गुलाबी रंग की हथेलियों वाले होते हैं आशावादी
- ऐसे लोगों के जीवन में धन की कमी नहीं होती है। हथेली अत्यधिक गुलाबी होने पर व्यक्ति का स्वभाव परिवर्तन पसंद होता है।
- ये लोग परिवर्तन चाहते हैं। गुलाबी रंग की हथेलियां जिन लोगों की होती हैं, वे क्षमाशील व सौम्य व्यक्तित्व के होते हैं।
- हमेशा प्रसन्नता चेहरे पर दिखाई देती है। आत्मविश्वासी होते हैं। कलात्मक रुझान होता है।
लाल रंग वाले होते हैं धनवान
- जिन लोगों की हथेली लाल रंग की होती है, उन्हें सबसे अधिक धन प्राप्त होता है।
- शास्त्रों के अनुसार लाल हथेलियों की प्रशंसा की गई है। नीली व काली हाथेलियों को अच्छा नहीं माना गया है।
सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार
करतलैर्देव शार्दूल लक्ष्मीभैरीश्वराः स्मृताः।
अगम्यागामीनः पीतैरक्षैनिर्धनताः स्मृताः।
अपैयपानं कुर्वन्ति नील कृष्णैस्तभैव च।
अर्थ
- लाल रंग की हथेलियां व्यक्ति के ऐश्वर्यशाली होने की ओर संकेत करती हैं।
- चिकनी और चमकने वाली हथेलियां अमीर होने की ओर ईशारा करती हैं। पीली हथेलियां अच्छे गुण न होने को बतलाती हैं।
- रुखे-सुखे हाथ गरीब का कारक है। नीला व काला हाथ नशे का आदी होने का लक्षण है।
क्या है सामुद्रिक शास्त्र में?
- शरीर के आधार पर व्यक्ति के स्वभाव व चरित्र को समझना ही सामुद्रिक शास्त्र है। इसमें मुख, हथेली तथा पूरे शरीर का अध्ययन किया जाता है।
- समुद्र ऋषि द्वारा लिखिल यह ग्रन्थ अपने मूल रूप में नहीं मिलता है। वर्तमान में 'सामुद्रिक तिलक' , भविष्य पुराण का स्त्री पुरुष लक्षण वर्णन आदि सामुद्रिक शास्त्र से सम्बंधित ग्रन्थ उपलब्ध हैं।
- गरुड़ पुराण, स्कंद पुराण, बाल्मीकि रामायण, महाभारत आदि ग्रंथों के अलावा जैन तथा बौद्ध ग्रंथों में भी इसका वर्णन मिलता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×