Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Hastrekha» Palm Reading About Mole, Mole In Palm Palmistry, Hastrekha, Palmistry In Hindi

शुभ नहीं होता हथेली के शुक्र पर्वत का तिल, हाथ के ऐसे ही 6 अशुभ तिल और उनका असर

ज्योतिष में तिलों का महत्व बताया गया है। तिलों का संबंध हमारे भविष्य से होता है। ये शुभ और अशुभ दोनों तरह के होते हैं...

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 12, 2018, 05:10 PM IST

शुभ नहीं होता हथेली के शुक्र पर्वत का तिल, हाथ के ऐसे ही 6 अशुभ तिल और उनका असर, religion hindi news, rashifal news

रिलिजन डेस्क।हथेली की रेखाएं और हाथ की बनावट देखकर किसी भी व्यक्ति का भविष्य और स्वभाव बताने वाली विद्या है हस्तरेखा। कुछ लोगों की हथेली में तिल होते हैं। इन तिलों का भी व्यक्ति के भविष्य और स्वभाव पर असर होता है। हस्तरेखा की मदद से हाथ की रेखाओं के साथ ही तिल भी बता देते हैं कि कोई व्यक्ति कभी सफल होगा या नहीं। उज्जैन की ज्योतिषाचार्य और हस्तरेखा विशेषज्ञ डॉ. विनिता नागर के अनुसार जानिए हथेली के तिल और उनका फलादेश...

1.अगर किसी व्यक्ति की हथेली के शुक्र पर्वत पर तिल हो तो व्यक्ति के विचारों में पवित्रता नहीं होती है। ऐसे लोग नकारात्मक मानसिकता वाले हो सकते हैं। शुक्र पर्वत अंगूठे के नीचे वाले भाग को कहते हैं।

2.जिन लोगों की हथेली में चंद्र पर्वत पर तिल है, उन्हें पानी (नदी, तालाब, कुएं, समुद्र) से सावधान रहना चाहिए। इन लोगों के विवाह में देरी हो सकती है। चंद्र पर्वत शुक्र पर्वत के पास ही हथेली पर दूसरी ओर होता है।

3.अगर गुरु पर्वत पर तिल है तो विवाह में परेशानियां आती हैं। किसी भी काम में उचित सफलता प्राप्त नहीं हो पाती है। ये पर्वत इंडेक्स फिंगर के नीचे होता है।

4.शनि पर्वत पर तिल होने से विवाह में देरी होती है और वैवाहिक जीवन भी संतोषजनक नहीं रहता है। शनि पर्वत मिडिल फिंगर के नीचे होता है।

5.सूर्य पर्वत पर तिल है तो यह मान-सम्मान के लिए शुभ नहीं होता है। सूर्य पर्वत पर तिल हो तो व्यक्ति को समाज में अपमान का सामना करना पड़ सकता है। सूर्य पर्वत रिंग फिंगर के नीचे होता है।

6.अगर किसी व्यक्ति की हथेली के बुध पर्वत पर तिल बन जाता है तो उसे अचानक कोई नुकसान हो सकता है। बुध पर्वत सबसे छोटी उंगली के नीचे स्थित होता है। जब हथेली में ऐसी स्थिति बने तो सावधानीपूर्वक कार्य करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×