Home » Jeevan Mantra »Tirth Darshan » Nepal's Temple, Pashupatinath Temple, Janki Temple, Narendra Modi's Nepal Tour, नेपाल के मंदिर, पशुपतिनाथ मंदिर, जानकी मंदिर, नरेंद्र मोदी की नेपाल यात्रा

यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स में शामिल है नेपाल का 1 मंदिर, जा सकते हैं सिर्फ हिंदू

भारत के अलावा नेपाल में भी भगवान शिव, विष्णु व माता सीता के अनेक प्राचीन मंदिर हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - May 11, 2018, 05:51 PM IST

  • यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स में शामिल है नेपाल का 1 मंदिर, जा सकते हैं सिर्फ हिंदू, religion hindi news, rashifal news
    चित्र: नेपाल के काठमांडू में स्थित पशुपतिनाथ मंदिर

    रिलिजन डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी दो दिवसीय यात्रा पर नेपाल पहुंच चुके हैं। शुक्रवार (11 मई) को मोदी ने कई मंदिरों के दर्शन किए। शनिवार को वे मुक्तिनाथ मंदिर में दर्शन करने जाएंगे। भारत के अलावा नेपाल में भी भगवान शिव, विष्णु व माता सीता के अनेक प्राचीन मंदिर हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे ही मंदिरों के बारे में बता रह हैं, जो इस प्रकार हैं...

    1. पशुपतिनाथ मंदिर
    भगवान शिव का यह मंदिर नेपाल की राजधानी काठमांडू से 3 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में बागमती नदी के किनारे देवपाटन गांव में स्थित है। अपने ऐतिहासिक महत्व की वजह से यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स में शामिल किया गया है। इस मंदिर में केवल हिंदू ही जा सकते हैं।

    2. जानकी मंदिर
    यह मंदिर नेपाल के जनकपुर में एक ऐतिहासिक स्थल है। यह मंदिर देवी सीता को समर्पित है। इस मंदिर का निर्माण मध्य भारत के टीकमगढ़ की रानी वृषभानु कुमारी ने 1911 ईस्वी में करवाया था।

    3. मुक्तिनाथ मंदिर
    यह मंदिर नेपाल के सबसे प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों में से एक है। यह मंदिर बौद्ध और हिंदू दोनों के लिए विशेष है। मान्यता है कि सच्ची श्रद्धा से यहां आने वालों को मोक्ष की प्राप्ति होती है।

    4. मनोकामना मंदिर
    यह मंदिर काठमांडू से 105 किलोमीटर दूर गोर्खा जिले में स्थित है। मान्यता है कि इस मंदिर में आने वाले भक्तों की हर मनोकामना जरूर पूरी होती है। नेपाल का यह मंदिर शक्तिपीठ के रूप में भी प्रसिद्ध है। मंदिर में एक ऐतिहासिक विशाल घंटा भी है। जो भी भक्त यहां आता है, वो यह घंटा जरूर बजाता है।

    5. बुदानिकंथा
    यह मंदिर काठमांडू से 8 किलोमीटर दूर शिवपुरी पहाड़ी के नीचे स्थित है। यहां 11 नागों की सर्पिलाकार कुंडली पर लेटे हुए भगवान विष्णु की प्रतिमा है। इसे देखने से दूर-दूर से श्रृद्धालु यहां आते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×