Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm » Mohini Ekadashi 2018, Ekadashi Ke Upay, Mohini Ekadashi Ke Upay, मोहिनी एकादशी, एकादशी के उपाय

26 अप्रैल को न करें ये 11 काम, 1 भी किया तो आपके साथ हो सकता है कुछ बुरा

एकादशई पर कुछ विशेष काम नहीं करने चाहिए। इन्हें करने से अर्जित पुण्य भी पाप में बदल जाते हैं

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 24, 2018, 05:00 PM IST

  • 26 अप्रैल को न करें ये 11 काम, 1 भी किया तो आपके साथ हो सकता है कुछ बुरा

    रिलिजन डेस्क। इस बार 26 अप्रैल, गुरुवार को वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि है। इसे मोहिनी एकादशी कहते हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, इस दिन कुछ विशेष काम नहीं करने चाहिए। इन्हें करने से अर्जित पुण्य भी पाप में बदल जाते हैं और आपके साथ कुछ बुरा हो सकता है। जानिए एकादशी पर कौन से 11 काम नहीं करने चाहिए-

    1. रात में सोना

    एकादशी की रात सोना नहीं चाहिए। पूरी रात जागकर भगवान विष्णु की भक्ति करनी चाहिए। इससे भगवान की कृपा मिलती है।

    2. जुआ खेलना
    जुआ एक सामाजिक बुराई है। इसलिए सिर्फ एकादशी ही नहीं बल्कि कभी भी जुआ नहीं खेलना चाहिए।

    3. पान खाना
    एकादशी तिथि पर पान खाने से मन में रजोगुण की प्रवृत्ति बढ़ती है। इसलिए एकादशी के दिन पान नहीं खाना चाहिए।

    4. दातून करना

    एकादशी पर दातून (मंजन) करने की भी मनाही है।


    5. परनिंदा (दूसरों की बुराई)
    परनिंदा करने से मन में दूसरों के प्रति कटु भाव आ सकते हैं। इसलिए इस दिन भगवान विष्णु का ही ध्यान करना चाहिए।


    6. चुगली करना
    चुगली करने से मान-सम्मान में कमी आ सकती है। इसलिए सिर्फ एकादशी ही नहीं अन्य दिनों में भी किसी की चुगली नहीं करना चाहिए।


    7. चोरी करना
    चोरी करना पाप है। इसलिए सिर्फ एकादशी ही नहीं अन्य दिनों में भी चोरी जैसा पाप कर्म नहीं करना चाहिए।


    8. हिंसा करना
    एकादशी के दिन किसी भी प्रकार की हिंसा नहीं करनी चाहिए। इससे मन में विकार आता है।


    9. स्त्रीसंग
    एकादशी तिथि बहुत ही पवित्र है। इस दिन स्त्रीसंग नहीं करना चाहिए साथ ही इस विषय के बारे में सोचना भी नहीं चाहिए।

    10. क्रोध
    एकादशी पर क्रोध भी न करें। अगर किसी से कोई गलती हो भी जाए तो उसे माफ कर देना चाहिए और मन शांत रखना चाहिए।


    11. झूठ बोलना
    झूठ बोलना व्यक्तिगत बुराई है। जो झूठ बोलते हैं, मान-सम्मान नहीं मिलता। इसलिए अन्य दिनों में भी कभी झूठ नहीं बोलना चाहिए।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×