Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Measures For Marriage, Measures Of Astrology, Measures Of Thursday

शादी नहीं हो रही तो गुरुवार को केले के पेड़ के नीचे करें भगवान विष्णु की पूजा

जिनकी कुंडली में गुरु अशुभ स्थान पर होता है, उन लोगों के विवाह में बहुत परेशानियां आती हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - May 23, 2018, 05:00 PM IST

  • शादी नहीं हो रही तो गुरुवार को केले के पेड़ के नीचे करें भगवान विष्णु की पूजा, religion hindi news, rashifal news

    रिलिजन डेस्क।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, विवाह के लिए गुरु ग्रह का अनुकूल होना अनिवार्य है। जिनकी कुंडली में गुरु अशुभ स्थान पर होता है, उन लोगों के विवाह में बहुत परेशानियां आती हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रवीण द्विवेदी के अनुसार, गुरु ग्रह के दोष को शांत करने के लिए कई उपाय हैं।

    उन्हीं में से एक उपाय है केले के पेड़ के नीचे भगवान विष्णु और देवगुरु बृहस्पति की पूजा करना। ये पूजा गुरुवार को करनी चाहिए। इस उपाय से भगवान विष्णु की कृपा भी प्राप्त होती है क्योंकि केले का पेड़ भगवान विष्णु का ही स्वरूप माना गया है। गुरुवार को केले के पेड़ के नीचे ऐसे करें भगवान विष्णु और देवगुरु बृहस्पति की पूजा…

    1. गुरुवार को केले के पेड़ के नीचे पीला कपड़ा रखकर बृहस्पति व भगवान विष्णु की मूर्ति स्थापित करें। अगर ये संभव न हो तो केले के पत्ते पर भी दोनों देवताओं की प्रतिमा स्थापित कर सकते हैं।
    2. गाय के दूध से बृहस्पति व विष्णुजी का अभिषेक करें और पीले फूल, पीला चंदन, गुड़, चने की दाल, पीले वस्त्र दोनों देवताओं को अर्पित करें।
    3. दोनों देवताओं को भोग में पीले पकवान और पीले फल अर्पित करें।
    4. इस तरह पूजा करने के बाद देवगुरु बृहस्पति और भगवान विष्णु की आरती गाय के शुद्ध घी के दीपक से करें -

    श्रीनिवासाय देवाय नम: श्रीपयते नम:।

    श्रीधराय सशाङ्र्गाय श्रीप्रदाय नमो नम:।।

    श्रीवल्लभाय शान्ताय श्रीमते च नमो नम:।

    श्रीपर्वतनिवासाय नम: श्रेयस्कराय च।

    श्रेयसां पतये चैव ह्याश्रयाय नमो नम:।

    नम: श्रेय:स्वरूपाय श्रीकराय नमो नम:।।

    शरण्याय वरेण्याय नमो भूयो नमो नम:।

    स्त्रोत्रं कृत्वा नमस्मृत्य देवदेवं विसर्जयेत्।।

    इति रुद्र समाख्याता पूजा विष्णोर्महात्मन:।

    य: करोति महाभक्त्या स याति परमं पदम्।।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×