Home » Jeevan Mantra »Tirth Darshan » Kedarnath Jyotirlinga, Kedarnath Temple, 12 Jyotirlingas, Temple Of Lord Shiva, केदारनाथ ज्योतिर्लिंग, केदारनाथ मंदिर, 12 ज्योतिर्लिंग, भगवान शिव के प्रमुख मंदिर

आज से दर्शन के लिए खुला केदारनाथ मंदिर, पहली बार लेजर लाइट शो में दिखेगा इतिहास

वर्तमान में यह ज्योतिर्लिंग उत्तराखण्ड राज्य के रूद्रप्रयाग जिले में स्थित है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 30, 2018, 12:31 PM IST

  • आज से दर्शन के लिए खुला केदारनाथ मंदिर, पहली बार लेजर लाइट शो में दिखेगा इतिहास, religion hindi news, rashifal news

    रिलिजन डेस्क। भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में केदारनाथ का स्थान पांचवां है। शिवपुराण के अनुसार, इस स्थान पर कभी भगवान विष्णु के अवतार महातपस्वी नर और नारायण ऋषि तपस्या करते थे। उनकी आराधना से प्रसन्न होकर भगवान शिव प्रकट हुए और ज्योतिर्लिंग के रूप में यहीं स्थित हो गए।
    वर्तमान में यह ज्योतिर्लिंग उत्तराखण्ड राज्य के रूद्रप्रयाग जिले में स्थित है। प्रतिकूल जलवायु होने की वजह से यह मंदिर अप्रैल से नवंबर के बीच ही दर्शनों के लिए खुलता है। इस बार केदारनाथ मंदिर 29 अप्रैल, रविवार से आम दर्शनार्थियों के लिए खोला जाएगा।

    पहली बार होगा लेजर लाइट शो

    केदारनाथ मंदिर में पहली बार रंग-बिरंगी लेजर लाइट शो देखने को मिलेगा। इस शो का आयोजन हर रात महाआरती के बाद किया जाएगा। इसमें भक्तों को अत्याधुनिक तकनीक के जरिए लेजर लाइटों के रूप में विभिन्न कहानियां देखने को मिलेंगी। शो के माध्यम से भक्तों को मंदिर के इतिहास के बारे में बताया जाएगा।

    ऐसा है मंदिर का स्वरूप
    केदारनाथ मंदिर छह फीट ऊंचे चौकोर चबूतरे पर बना हुआ है। मंदिर में मुख्य भाग मण्डप और गर्भगृह के चारों ओर प्रदक्षिणा पथ है। बाहर प्रांगण में नंदी की प्रतिमा है। मंदिर का निर्माण किसने कराया, इसका कोई प्रामाणिक उल्लेख नहीं मिलता, लेकिन ऐसा भी कहा जाता है कि इसकी स्थापना आदिगुरु शंकराचार्य ने की थी।

    ये है दर्शन का समय
    केदारनाथ मंदिर आम दर्शनार्थियों के लिए सुबह 6 बजे खुलता है। दोपहर 3 से 5 बजे तक मंदिर बंद कर विशेष पूजा होती है। इसके बाद शाम 5 बजे दोबारा मंदिर के पट खोले जाते हैं। रात 8:30 बजे मंदिर बंद कर दिया जाता है।

    कैसे पहुंचें
    सड़क मार्ग-
    भारत के किसी भी शहर से ऋषिकेश, हरिद्वार या देहरादून के रास्ते आप केदारनाथ पहुंच सकते हैं। इन शहरों से आपको कार या बस भी आसानी से मिल जाती है।

    रेल मार्ग- दिल्ली से हरिद्वार या ऋषिकेश रेल मार्ग से 4-5 घंटे में पहुंचा जा सकता है।

    हवाई मार्ग- केदारनाथ के नजदीक जॉली ग्रांट एअरपोर्ट, देहरादून है, जो केदारनाथ से 239 किमी दूर है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×