Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Kamla Ekadashi On 10 June 2018, Adhik Maas Ekadashi And Worship Tips

10 June : रविवार और एकादशी के योग में करें 10 उपाय, भगवान पूरी कर सकते हैं हर इच्छा

अधिक मास में आने वाली एकादशी को दुर्लभ माना जाता है, क्योंकि ये महीना 3 साल में एक ही बार आता है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 09, 2018, 05:58 PM IST

  • 10 June : रविवार और एकादशी के योग में करें 10 उपाय, भगवान पूरी कर सकते हैं हर इच्छा, religion hindi news, rashifal news

    रिलिजन डेस्क।रविवार, 10 जून को ज्येष्ठ मास की अधिक मास की एकादशी है। इसे कमला एकादशी कहा जाता है। अधिक मास में आने वाली इस एकादशी को दुर्लभ माना जाता है, क्योंकि ये 3 साल में एक ही बार आती है। इस एकादशी पर विष्णु-लक्ष्मी के साथ ही शिव-पार्वती की पूजा करने से सभी दुख दूर हो सकते हैं। जो व्यक्ति इस दिन दान करता है, उसे अक्षय पुण्य मिलता है। उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और ज्योतिर्विद पं. सुनील नागर के अनुसार जानिए रविवार और एकादशी के योग में कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं...

    1.किसी गरीब को या मंदिर में तिल, वस्त्र, धन, फल और मिठाई का दान करें।

    2.वरुण देव के मंत्र का जाप करते हुए किसी पवित्र नदी में स्नान करें। वरुण मंत्र- ऊँ वम वरुणाय नमः

    3.अगर संभव हो सके तो इस दिन निर्जल रहकर व्रत करना चाहिए। निर्जल यानी बिना पानी का व्रत। अगर निर्जल व्रत नहीं कर सकते हैं तो फलाहार और दूध का सेवन करते हुए व्रत कर सकते हैं।

    4.इस तिथि पर स्नान के बाद पूजा करें। पितरों के तर्पण करें। किसी मंदिर जाकर भगवान के सामने धूप, दीप जलाएं। प्रसाद, हार-फूल, केसर आदि चीजें चढ़ाएं।

    5.इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती की विशेष पूजा करें। भगवान के सामने घी का दीपक जलाएं। माता पार्वती को सुहाग की चीजें अर्पित करें।

    6.भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करें। पूजा में भगवान विष्णु की किसी भी कथा का पाठ करें। जैसे रामायण, सत्यनारायण की कथा, विष्णु पुराण आदि।

    7.किसी शिव मंदिर जाएं और भगवान को नारियल, बिल्वफल, सीताफल, सुपारी, मौसमी फल आदि चीजें चढ़ाएं।

    8.इस तिथि पर पानी में तिल, गंगाजल, दूध, आंवले का रस मिलाकर स्नान करना चाहिए।

    9.एकादशी पर भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए ऊँ नमोः नारायणाय ऊँ नमोः भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप 108 बार करें।

    10.अगर आप दरिद्रता से मुक्ति पाना चाहते हैं तो पूजा में दक्षिणावर्ती शंख में केसर वाला दूध डालकर भगवान विष्णु या बाल गोपाल का अभिषेक करें। भगवान से परेशानियां दूर करने की प्रार्थना करें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×