Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » How To Worship To Bal Lord Krishna

बाल गोपाल की पूजा में न करें ये भूल, वरना मनोकामनाएं नहीं होंगी पूरी और घर में बने रहेंगे सकंट

श्रीकृष्ण की कृपा से बनी रहती है सुख-समृद्धि, इनकी पूजा में सावधानी जरूर रखें।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 15, 2018, 12:40 PM IST

बाल गोपाल की पूजा में न करें ये भूल, वरना मनोकामनाएं नहीं होंगी पूरी और घर में बने रहेंगे सकंट, religion hindi news, rashifal news

रिलिजन डेस्क.बाल गोपाल की पूजा से सभी सुखों की प्राप्ति हो सकती है, इसीलिए अधिकतर लोग अपने-अपने घर के मंदिर में लड्डू गोपाल की मूर्ति जरूर रखते हैं। अगर आपने भी मंदिर में इनकी मूर्ति रखी है तो पूजा-पाठ में कुछ सावधानियां जरूर रखें। श्रीकृष्ण की पूजा में कोई भूल हो जाती है तो मनोकामनाएं अधूरी रह सकती हैं। और घर में संकट बने रहते हैं। उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और ज्योतिर्विद पं. सुनील नागर के अनुसारजानिए कान्हाजी की पूजा में किन बातों का ध्यान रखना चाहिए...
- रोज सुबह-शाम कान्हा को भोग लगाते समय प्रसाद में तुलसी के पत्ते जरूर रखें। तुलसी के बिना भगवान भोग स्वीकार नहीं करते हैं। ये एक भूल पूजा को असफल कर सकती है।
- बाल गोपाल की पूजा से पहले आचमन करना चाहिए। इसके लिए पहले खुद के हाथ साफ पानी से धोएं, इसके बाद श्रीकृष्ण के हाथों के लिए जल अर्पित करें। इसके लिए सुगंधित फूलों वाले पानी का उपयोग करना चाहिए।
- पूजा में भगवान श्रीकृष्ण की मूर्ति आसन पर बिठाएं। आसन का रंग तेज और चमकीला, जैसे लाल, पीला, नारंगी हो तो सबसे अच्छा रहता है।
- जिस बर्तन में भगवान श्रीकृष्ण के पैर धोए जाते हैं, उसे पाद्य कहा जाता है। पूजा से पहले पाद्य में स्वच्छ जल और फूलों की पंखुड़ियां डालें और उससे भगवान के चरणों को धोएं।
- दूध, दही, घी, शहद और चीनी को एक साथ मिलाकर पंचामृत बनाएं। किसी शुद्ध बर्तन में भरकर भगवान को भोग लगाएं। ध्यान रखें श्रीकृष्ण को तुलसी के बिना भोग न लगाएं।
- पूजा में उपयोग होने वाली दूर्वा घास, कुमकुम, चावल, अबीर, सुगंधित फूल और शुद्ध जल को पंचोपचार कहा जाता है। श्रीकृष्ण की पूजा में इन सभी का होना आवश्यक है।
- श्रीकृष्ण की पूजा में जो भोग लगाया जाता है, उसमें ताजे फल, मिठाइयां, लड्डू, मिश्री, खीर, तुलसी के पत्ते और फल शामिल होते हैं।
- बाल गोपाल की पूजा में गाय के दूध से बने घी का उपयोग करना चाहिए। दीपक में भी यही घी डालना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×