Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm Granth » Garud Puran S Interesting Story.

ये 10 काम करने वालों को जाना पड़ता है नर्क, लिखा है इस ग्रंथ में

गरूण पुराण के अनुसार, हर मनुष्य को उसके बुरे कर्मों की सजा नर्क में दी जाती है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 07, 2018, 07:11 PM IST

  • ये 10 काम करने वालों को जाना पड़ता है नर्क, लिखा है इस ग्रंथ में
    +1और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क. गरूण पुराण के अनुसार, हर मनुष्य को उसके बुरे कर्मों की सजा नर्क में दी जाती है। ग्रंथों में 36 तरह के मुख्य नर्कों का वर्णन भी किया गया है, जहां अलग-अलग बुरे कर्मों के लिए सजा दी जाती है। अग्निपुराण, कठोपनिषद जैसे प्रामाणिक ग्रंथों में भी इसका उल्लेख मिलता है। आज हम आपको बता रहे हैं, उन कामों के बारे में जिन्हें करने से नर्क जाना पड़ता है-

    1. जो शराब, मांस, गीत, जुआ आदि व्यसनों में ही दिन-रात लगे रहते हैं, ऐसे लोगों को नरक ही प्राप्त होता है।
    2. जो कुएं, तालाब, प्याऊ और मार्ग आदि को हानि पहुंचाते हैं, ऐसे लोग नर्क में जाते हैं।
    3. जो लोग भगवान शिव और विष्णु का चिंतन नहीं करते, उन्हें नर्क में जाना पड़ता है।
    4. ऋषियों, सतियों और वेदों की निंदा करने वाले लोग सदैव नर्क में ही जाते हैं।
    5. भूख-प्यास से थककर जो भिखारी किसी के घर जाता हो और उसे वहां से अपमानित होकर लौटना पड़े, तो ऐसे याचक (मांगने वाला) का अपमान करने वाले नरक में जाते हैं।
    6. आत्महत्या, स्त्री हत्या, गर्भ हत्या, ब्रह्म हत्या, गौ हत्या करने वाला, झूठी गवाही देने वाला, कन्या को बेचने वाला, झूठ बोलने वाले लोग नर्क में जाते हैं।
    7. जो अपनी पत्नी, बच्चों, नौकरों और मेहमानों को खिलाए बिना ही खाते हैं और पितरों तथा देवताओं की पूजा छोड़ देते हैं, ऐसे लोग नरक में जाते हैं।
    8. दूसरों का धन हड़पने वाले, दूसरों के गुणों में दोष देखने वाले तथा दूसरों से ईर्ष्या करने वाले नरक में जाते हैं।
    9. जो अनाथ, गरीब, रोगी, बुढ़े और दयनीय लोगों पर दया नहीं करता, वह नरक में जाता है।
    10. ब्राह्मण होकर शराब व मांस का सेवन करने वाला, ब्राह्मण की जीविका नष्ट करने वाला और दूसरों की संपत्ति का हरण करने वाला, ये सभी नर्क को ही प्राप्त होते हैं।

    पुराणों में बताए गए 36 नर्कों के नाम जानने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-

    ये भी पढ़ें-

    अंतिम संस्कार के समय कैसे और क्यों की जाती है कपाल क्रिया?

    14 अप्रैल से पहले करें इनमें से कोई 1 उपाय, भाग्य देने लगेगा साथ

  • ये 10 काम करने वालों को जाना पड़ता है नर्क, लिखा है इस ग्रंथ में
    +1और स्लाइड देखें

    1.महावीचि
    2. कुंभीपाक
    3. रौरव
    4. मंजूष
    5. अप्रतिष्ठ
    6. विलेपक
    7. महाप्रभ
    8. जयंती
    9. शाल्मलि
    10. महारौरव
    11. तामिस्र
    12. महातामिस्र
    13. असिपत्रवन
    14. करम्भ बालुका
    15. काकोल
    16. कुड्मल
    17. महाभीम
    18. महावट
    19. तिलपाक
    20. तैलपाक
    21. वज्रकपाट
    22. निरुच्छवास
    23. अंगारोपच्य
    24. महापायी
    25. महाज्वाल
    26. क्रकच
    27. गुड़पाक
    28. क्षुरधार
    29. अम्बरीष
    30. वज्रकुठार
    31. परिताप
    32. काल सूत्र
    33. कश्मल
    34. उग्रगंध
    35. दुर्धर
    36. वज्रमहापीड

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×