Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Astro Tips In Hindi, Shani Ke Upay, Shaniwar Ke Upay, शनिवार के 5 उपाय, 1 भी करेंगे तो शनिदेव आप पर हो सकते हैं मेहरबान

शनिवार के 5 उपाय, 1 भी करेंगे तो शनिदेव आप पर हो सकते हैं मेहरबान

शनिवार के उपायों से आपकी सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - May 03, 2018, 05:50 PM IST

  • शनिवार के 5 उपाय, 1 भी करेंगे तो शनिदेव आप पर हो सकते हैं मेहरबान, religion hindi news, rashifal news

    रिलिजन डेस्क।अगर कुंडली में शनि अशुभ हो तो व्यक्ति को किसी भी काम में आसानी से सफलता नहीं मिलती है। ज्योतिष के अनुसार शनिवार का कारक ग्रह शनि है। इस ग्रह के लिए शनिवार को पूजा, व्रत, दान आदि करना चाहिए। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार शनिवार के लिए 5 उपाय, इनमें से 1 भी करेंगे तो शनिदेव की कृपा मिल सकती है और आपकी परेशानियां दूर हो सकती हैं।

    पहला उपाय

    पीपल के पास शनि के नामों का जाप करना। मान्यता है कि शनि के इन नामों का जाप करने से शनि दोष दूर होते हैं। शनिदेव की कृपा से बुरे समय से भी मुक्ति मिल सकती है। शनि की साढ़ेसाती और ढय्या में भी शुभ फल मिल सकते हैं।

    ये है शनि के दस नामों का मंत्र

    कोणस्थ पिंगलो बभ्रु: कृष्णो रौद्रोन्तको यम:।

    सौरि: शनैश्चरो मंद: पिप्पलादेन संस्तुत:।।

    इस मंत्र के अनुसार कोणस्थ, पिंगल, बभ्रु, कृष्ण, रौद्रान्तक, यम, सौरि, शनैश्चर, मंद और पिप्पलाद। इन दस नामों से शनिदेव का स्मरण करने से सभी शनि दोष दूर हो जाते हैं।

    दूसरा उपाय

    शनिवार को सुबह जल में काले तिल डालकर स्नान करें। स्नान के बाद किसी पीपल पर दूध और जल अर्पित करें। शनि के लिए तेल का दान करें।

    तीसरा उपाय

    हनुमानजी के सामने ऊँ रामाय नम: या श्रीराम या सीताराम मंत्र का जप करें। मंत्र जप की संख्या कम से कम 108 होनी चाहिए। श्रीराम नाम से हनुमानजी बहुत प्रसन्न होते हैं।

    चौथा उपाय

    एक नारियल लेकर मंदिर जाएं और हनुमानजी की मूर्ति के सामने नारियल को अपने सिर पर सात बार वार लें। इसके बाद नारियल फोड़ दें।

    पांचवां उपाय

    हनुमानजी की प्रतिमा पर तिल के तेल में सिंदूर मिलाकर चोला चढ़ाएं। चोला चढ़ाते समय इस मंत्र का स्मरण करें-

    सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यसुखवर्द्धनम्।

    शुभदं चैव माङ्गल्यं सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम्।।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×