Home » Jeevan Mantra »Naya Jeevan » Art Of Living Live Session Of Smt Bhanumati Narsimhan

आर्ट ऑफ लिविंग के लाइव सत्र 4-6 मई, भानुमति नारसिम्हन कराएंगी मेडिटेशन

भारत भर में समाज समाधि ध्यान योग 4-6 मई आयोजित किया जाएगा, जिसमें भानुमती नारसिम्हन के लाइव सत्र होंगे।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 12, 2018, 05:57 PM IST

आर्ट ऑफ लिविंग के लाइव सत्र 4-6 मई, भानुमति नारसिम्हन कराएंगी मेडिटेशन, religion hindi news, rashifal news

रिलिजन डेस्क. श्रीश्री रविशंकर कहते हैं, जीवन के तीन पहलू हैं:- 1. ज्ञान, 2. जागरूकता और 3. प्यार। जीवन में प्यार की कमी या प्यार खोने या इसकी लालसा दुःख का कारण बनती है,आप जीवन में इन तीनों में से किसी एक की वजह से या कमी से दुखी हो जाते हैं।" जब जागरूकता की कमी होती है,तो आप गलतियां करते हैं। तीसरी बात ज्ञान की कमी है और ध्यान हमारे जीवन में इन तीन चीजों को बढ़ाता है। यह ज्ञान को बढ़ाता है, यह जागरूकता को बढ़ाता है और यह प्यार को जन्म देता है जो आपको अपनेपन का एहसास करता है। आप इस ग्रह पर कोई भी चीज देखें, जो आपके अकेलेपन को कम कर सकती है, तो मैं आपको बताता हूं,वह ध्यान है।"

लेकिन एक प्रभावी ढंग से कैसे ध्यान करें? बस अपनी आँखें बंद कर के बैंठेने से यह आपको अपनी गहराई तक नहीं ले जाएगा। इसके विपरीत, दस लाख विचार दिमाग में आते चले जाएंगे।


यह वह जगह है जहां एक गुरु से व्यक्तिगत मंत्र वास्तव में मदद करता है। इन दिनों आप इंटरनेट से तकनीक और मंत्र सीख सकते हैं। लेकिन हमें यह समझना है कि भले ही हर मोमबत्ती में जलने जाने की क्षमता हो, फिर भी केवल एक ज्वलनशील मोमबत्ती दूसरे को प्रकाश दे सकती है। यह ज्ञान अपने किसी आध्यात्मिक गुरु से लेना प्रभावी होता है और जो जीवन को बदलने के लिए आवश्यक है।

सहज समाधि ध्यान योग कार्यक्रम गहरी आंतरिक शांति का अनुभव करने का एक सरल लेकिन गहरा तरीका है। गुरु मंत्र की मदद से वर्षों के अभ्यास के बाद प्राप्त करने वाले अनुभव, सहज ही आसानी से प्राप्त किए जा सकते हैं।

सहज समाधि कार्यक्रम के तीन दिनों में हमें हमारे जीवन में ज्ञान और प्यार की रोशनी का अनुभव। आइए हम भी जागृत हों औरों को भी जगाएं और ज्ञान के इस दीपक को दूसरों तक पहुंचाए। भारत भर में समाज समाधि ध्यान योग 4-6 मई आयोजित किया जाएगा, जिसमें भानुमती नारसिम्हन के लाइव सत्र होंगे, जो प्रौद्योगिकी के माध्यम से देश की लंबाई और चौड़ाई में हजारों लोगों को इस सहज ध्यान का अनुभव करवाएंगी। हजारों लोगों के साथ ध्यान करने का अनुभव, अपने आप में एक विशेष घटना है। अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें - part2@vvki.org , 9620169692.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप

Trending

Top
×