Home » Jeevan Mantra »Tirth Darshan » Top 12 Tallest Lord Shiva Statues In The World

शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई

देश-विदेश में बनी शिव की 12 सबसे बड़ी मूर्तियां, देखें तस्वीरें

यूटीलिटी डेस्क | Last Modified - Feb 09, 2018, 05:00 PM IST

  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें

    भगवान शिव के मंदिर तो पूरी दुनिया में हैं। मंदिरों के अलावा ऐसी कुछ शिव प्रतिमाएं भी हैं जो बहुत विशाल होने के साथ-साथ बेहद सुंदर भी हैं। आज हम आपको भगवान शिव की ऐसी ही 12 विशाल मूर्तियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कि देश-विदेश में स्थापित हैं।

    जानिए भगवान शिव की 12 सबसे विशाल मूर्तियों से जुड़ी खास बातें-

    1. कैलाशनाथ महादेव (नेपाल)

    ऊंचाई - लगभग143फीट

    नेपाल के चित्तपोल सांगा जिला भक्तापुर में भगवान शिव की एक विशाल मूर्ति है। इस मूर्ति की ऊंचाई लगभग 143 फीट होने के कारण इसे दुनिया की सबसे ऊंची शिव प्रतिमा माना जाता है। यहां की शिव मूर्ति खड़ी मुद्रा में है, जिसे 2004 में बनाना शुरू किया गया था। मूर्ति 2010 में बनकर तैयार हुई और इसे बनाने में लगभग 11 करोड़ रु. लगाए गए।

    2. मुरुदेश्वरा (कर्नाटक)

    ऊंचाई- लगभग123फीट

    विश्‍व की दूसरे सबसे ऊंची शिव मूर्ति अरब सागर के तट पर बनी हुई है। इस क्षे‍त्र को मुरुदेश्वरा कहते हैं। बैठक मुद्रा में मुरुदेश्वर मंदिर के बाहर स्थापित शिव की इस मूर्ति की ऊंचाई 37 मीटर यानी लगभग 123 फीट है। कंदुका पहाड़ी पर तीन ओर से पानी से घिरा यह मुरुदेश्वर मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। यहां भगवान शिव का आत्मलिंग स्थापित है, जिसका संबंध रामायण काल से माना जाता है।

    3. मंगल महादेव (मॉरीशस)

    ऊंचाई- लगभग108फीट

    इस जगह को मॉरीशस की सबसे पवित्र जगह माना जाता है। यहां पर भगवान शिव का मंदिर झील के किनारे बना हुआ है। यहां पर भगवान शिव की खड़ी मुद्रा में मूर्ति है। शिवरात्रि पर मॉरीशस में बहुत से श्रद्धालु अपने घरों से नंगे पैरों से पैदल चलकर झील तक पहुंचते हैं।

    4. हर की पौड़ी ( हरिद्वार,उत्तराखंड)

    ऊंचाई - लगभग100फीट

    यह मूर्ति हरिद्वार में गंगा नदी के तट पर हर की पौड़ी के पास स्थापित है। यहां की शिव मूर्ति खड़ी मुद्रा में हैं। कहा जाता है कि यह घाट विक्रमादित्य ने अपने भाई भतृहरि की याद में बनवाया था। यहां पर हर शाम हजारों दीपकों के साथ गंगा की आरती की जाती है।

    5. शिवगिरि महादेव (शिवपुर,कर्नाटक)

    ऊंचाई -लगभग85फीट

    शिवगिरि महादेव की यह विशाल मूर्ति लगभग 85 फीट ऊंची है, जो बीजापुर जिले की शिवपुर नामक जगह पर है। शिव की यह बैठी हुई प्रतिमा 2011 में स्थापित की गई है।

    6. नागेश्वर महादेव (दारुकावन,गुजरात)

    ऊंचाई लगभग 82फीट

    12 ज्योतिर्लिंगों में से एक नागेश्वर ज्योतिर्लिंग के मंदिर परिसर में भगवान शिव की ये विशाल मूर्ति स्थापित हैं। यह जगह भगवान शिव की सबसे खास जगहों में गिनी जाती हैं। हर साल यहां लाखों श्रद्धालु भगवान शिव की उपासना करने के लिए आते हैं।

    7. कचनार महादेव (जबलपुर,मध्यप्रदेश)

    ऊंचाई- लगभग 76फीट

    मध्‍यप्रदेश के जबलपुर जिले के कचनार शहर में शिव मंदिर के पास स्थापित इस मूर्ति की ऊंचाई 76 फीट है। यहीं पर 12 ही ज्योतिर्लिंगों की प्रतिकृतियां बनाई गई हैं। यह मध्यप्रदेश की सभी तरह की विशाल प्रतिमाओं में से एक मानी जाती है।

    8. कैम्प फोर्ट शिव मूर्ति (बेंगलुरु,कर्नाटक)

    ऊंचाई- लगभग65फीट

    65 फीट ऊंची इस मूर्ति की स्थापना 1995 में हुई थी। इस मूर्ति में भगवान शिव पद्मासन की अवस्था में विराजमान हैं। इस मूर्ति में भगवान शिव के साथ उनका निवास कैलाश पर्वत और प्रवाहित होती गंगा नदी भी दिखाई देती है।

    9. बेलीश्वर महादेव (भंजनगर,ओडिशा)

    ऊंचाई- लगभग61फीट

    ओडिसा की भंजननामक जगह पर भगवान शिव का चंद्रशेखर महादेव मंदिर है। उसी मंदिर के पास यह शिव प्रतिमा स्थापित हैं। इस मूर्ति का अनावरण 6 मार्च 2013 को किया गया था।

    10 ओंकारेश्वर (मध्यप्रदेश)

    ऊंचाई- लगभग 82 फीट

    भगवान शिव के बारह ज्योंतिर्लिंगों में से एक ओंकारेश्वर में स्थापित है। ओंकारेश्वर नर्मदा नदी के तट पर बसा पवित्र नगर है। यहां पर भगवान शिव की एक सुंदर और लगभग 82 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित है

    11. शिव प्रतिमा (इलाहबाद, उत्तर प्रदेश)

    ऊंचाई- लगभग 108 फीट

    इलाहबाद भारत की सबसे पवित्र जगहों में से एक है, क्योंकि यहां पर हर 12 साल में कुंभ का मेला लगता है। इलाहबाद की गंगा नदी के तट पर भगवान शिव की ये विशाल मूर्ति स्थापित है। इस मूर्ति में भगवान शिव अपने वाहन नंदी पर विराजित दिखाई देते हैं।

    12. नामची शिव प्रतिमा (सिक्किम)

    ऊंचाई- लगभग 108 फीट

    नामची शिव प्रतिमा सिक्किम में सिद्धेश्वर धाम के पवित्र मंदिर में स्थापित है। यह देश की सबसे ऊंची शिव मूर्तियों में से एक है। यहां पर भगवान शिव की विशाल प्रतिमा होने के साथ-साथ उनके 12 ज्योतिर्लिंगों की भी प्रतिमाएं स्थापित हैं।

    आगे देखें खबर का ग्राफिकल प्रेजेंटेशन...

  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
  • शिव की 12 मूर्तियां: 6 साल में बनी थी भोलेनाथ की सबसे बड़ी मूर्ति, 143 फीट है ऊंचाई, religion hindi news, rashifal news
    +11और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×