Home» Jeevan Mantra »Simhastha Mahakumbh 2016» Firing In Simhastha Ujjain.

सिंहस्थ: आवाहन अखाड़े में चली तलवारें- गोलियां, 10 साधु घायल

जीवन मंत्र डेस्क | May 13, 2016, 10:59 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
उज्जैन में चल रहे सिंहस्थ महापर्व में गुरुवार (12 मई) को आवाहन अखाड़े में वर्चस्व को लेकर साधु-संतों में विवाद हो गया। त्रिशूल, डंडे, तलवार, भाले, चिमटे लेकर वे एक-दूसरे पर टूट पड़े। गोली भी चली। संघर्ष में 10 साधु घायल हुए हैं। दोनों पक्ष एक-दूसरे पर आरोप लगाते हुए इसे आपसी विवाद बता रहे हैं।

ऐसे हुआ विवाद

अखाड़े में चार श्रीमहंत और चार अष्टकौशल महंत के चुनाव हुए। वरिष्ठ महंतों और आचार्यों ने नाम तय कर दिए। तीन गादी पर हुए मनोनयन पर कोई विवाद नहीं हुआ, किंतु 16 मढ़ी की गादी पर श्रीमहंत महामंडलेश्वर रसराजपुरी व अष्टकौशल महंत राघवपुरी के मनोनयन को लेकर संतों का एक पक्ष नाराज हो गया। उनके 50 से अधिक समर्थकों ने सुबह 10 बजे के करीब अखाड़ा में पहुंचकर गादी के सामने विरोध करना शुरू कर दिया। इसी दौरान मारपीट हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार तीन फायर भी हुए, तलवारें, त्रिशूल, भाले व लाठियां चलीं।

पहले बोले आपसी विवाद बाद में बदला बयान

मामले में अखाड़े के राष्ट्रीय महामंत्री व सिंहस्थ मेला प्रभारी महंत सत्यगिरि बोले यह आपसी मामला है। फिर बोले महामंडलेश्वर कृष्णानंद गिरि चुनौती देकर गए हैं, फिर आएंगे। हम विवाद नहीं चाहते, किंतु गुंडों को लेकर उत्पात मचाना ठीक नहीं। वहीं, कृष्णानंद गिरि का कहना है हम तो बात करने गए थे। माधवनगर अस्पताल में भर्ती ओमपुरी की जांघ पर गोली लगी है। राजेंद्र पुरी के गले व तेजपुरी के पैर में लगी है। महंत राघवपुरी, गुरु रसराज पुरी की शिकायत पर पुलिस ने महंत ब्रजेशपुरी, अमर सदानंदपुरी, कृष्णानंद पुरी और विवेकपुरी के खिलाफ जानलेवा हमले ओर जान से मारने की धमकी का दर्ज किया।

ऋषिराजपुरी से गादी छुड़ाना चाहते हैं

राघव पुरी का कहना है कि चुनाव हो चुका था, जिसमें ऋषिराज पुरी श्रीमहंत चुने गए। उनसे गादी छुड़ाना चाहते थे। कृष्णानंदपुरी महाराज अपने चेलों को पद दिलवाना चाहते थे। वे 10-12 हमलावर लेकर आए थे। विवाद की वजह से इस चुनाव प्रक्रिया को मान्य नहीं किया जाएगा। उक्त पदों के लिए फिर से चुनाव होंगे। अखाड़ा ही विवाद का हल निकालेगा।

दूसरे पक्ष बोला

श्री महंत के लिए अवधूतगिरि महाराज, अमरीश भारती महाराज, सोमगिरि महाराज, रसराजपुरी महाराज व अष्ट कौशल महंत के लिए सोमेश्वर गिरि, सत्यानंद भारती, अजय गिरि, राघव गिरि चुने गए।



एक पक्ष का दावा

श्री महंत के लिए ऋषिराज पुरी, अष्टकौशल महंत राघव पुरी, कारोबारी अवधेश पुरी, कोतवाल विद्यानंद व भंडारी के लिए सनातन पुरी को चुना गया।

रुपए लिए पर गादी नहीं दी

राहुल पुरी का आरोप है श्रीमहंत बनाने के लिए रुपए लिए जाते हैं। हमसे भी रुपए लिए लेकिन गादी नहीं दी गई। ब्रजेश पुरी श्रीमहंत बनने जा रहे थे। उनके लिए अखाड़े के अध्यक्ष अरमसबदानंदजी का समर्थन मिला था। उनके समर्थन को महामंत्री सत्य गिरि व श्रीमहंत नीलकंठ गिरि ने नहीं माना। उन्हीं के इशारे पर हमला हुआ है।

ये घायल, जिला अस्पताल में भर्ती

राघव पुरी, राजेश गिरि, भोला गिरि, सनातनपुरी, नागेंद्र पुरी, राहुल पुरी नागा बाबा, महेंद्र राव पुरी, राजेंद्र गिरि सहित 10 साधु घायल हुए हैं। इन्हें जिला अस्पताल में भर्ती किया है। सभी की हालत खतरे से बाहर है। राहुल पुरी को पैर पर त्रिशूल लगा है, बाकी को चिमटे व डंडे से चोट आई है।

अन्य तस्वीरें देखने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-

सभी फोटो- काईद जौहर



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Firing in Simhastha Ujjain.
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      Trending Now

      पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

      दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

      * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
      Top