Home » Jeevan Mantra »Poojan Vidhi And Aartiyan »Poojan Vidhi » Hanuman Jayanti 2018: History, Importance And Significance

हनुमान जयंती 2018: हनुमान जी की पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

हनुमान जयंती 2018: शनिवार, 31 मार्च आज हनुमान जयंती है। आज हनुमानजी की पूजा करने से कुंडली के दोष दूर हो सकते हैं।

यूटिलिटी डेस्क | Last Modified - Mar 31, 2018, 02:28 PM IST

  • हनुमान जयंती 2018: हनुमान जी की पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

    हनुमान जयंती 2018: आज हनुमान जयंती है। इस दिन हनुमानजी की पूजा करने से कुंडली के दोष दूर हो सकते हैं। साथ ही, जीवन की सभी परेशानियों से छुटकारा मिल सकता है। यहां जानिए हनुमानजी के पूजन की सामान्य विधि। इस विधि से आप घर पर ही हनुमानजी की पूजा कर सकते हैं।


    पूजन सामग्री
    पूजा में हनुमानजी की मूर्ति के स्नान के लिए तांबे का बर्तन, तांबे का लोटा, जल का कलश, दूध, देव मूर्ति को अर्पित किए जाने वाले वस्त्र और आभूषण, सिंदूर, दीपक, तेल, रुई, धूपबत्ती, फूल, चावल, प्रसाद के लिए फल, मिठाई, नारियल, पंचामृत, सूखे मेवे, शक्कर, पान, दक्षिणा आदि चीजें अवश्य रखें।

    इस विधि से करें हनुमानजी की पूजा
    सर्वप्रथम श्री गणेश का पूजन करें। गणेशजी को स्नान कराएं। वस्त्र अर्पित करें। गंध, फूल, धूप, दीप, चावल से पूजन करें। गणेशजी की पूजा के बाद हनुमानजी का पूजन करें। प्रतिमा को स्नान कराएं। स्नान पहले जल से और फिर पंचामृत से कराएं। इसके बाद एक बार फिर जल से स्नान कराएं।
    वस्त्र अर्पित करें। वस्त्रों के बाद आभूषण पहनाएं। पुष्पमाला पहनाएं।
    ऊँ ऐं हनुमते रामदूताय नमः मंत्र का जाप करते हुए हनुमानजी को सिंदूर का तिलक लगाएं।
    अब धूप व दीप अर्पित करें। फूल अर्पित करें। अब प्रसाद अर्पित करें। फल, मिठाई, पान का बीड़ा चढ़ाएं सहित सभी पूजन सामग्री अर्पित करें। श्रद्धानुसार घी या तेल का दीपक लगाएं। आरती करें। आरती के बाद परिक्रमा करें।

    हनुमान जयंती 2018: हनुमान चालिसा का अर्थ हिन्दी में

    ये है शुभ मुहूर्त -

    पूर्णिमा तिथि 30 मार्च को शाम 07:35 से 31 मार्च को शाम 6 बजे तक है। उदया तिथि होने के कारण 31 मार्च को ही यह पर्व मनाया जाएगा। इसलिए शाम 6 बजे तक पूजा करना शुभ रहेगा। सुबह 9 बजे से 11 बजे तक राहुकाल रहेगा। 31 मार्च की रात्रि को हनुमान जी की पूजा करने से विशेष फल मिलेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Hanuman Jayanti 2018: History, Importance And Significance
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×