Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Vastu » 5 Vastu Defects Their Harmfull Effects

वास्तु के इन 5 कारणों से घर में हमेशा बनी रहती है अशांति और गरीबी

घर के 5 वास्तुदोष, जिनसे होते हैं कई नुकसान

यूटीलिटी डेस्क | Last Modified - Dec 24, 2017, 05:00 PM IST

    • जिस घर के लोग अक्सर बीमार रहते हो, आपस में मदभेद और तनाव बना रहता है या लगातार किसी न किसी तरह का नुकसान बना रहता हो तो इसका काण वहां के वास्तु दोष हो सकते हैं। अगर वास्तु संबंधी दोषों को पहचानकर उनका उपाय कर ल‌िया जाए तो समस्या का समाधान क‌िया जा सकता है। जानिए 5 ऐसे वास्तु दोष जिनकी वजह से घर में हमेशा अशांती और गरीबी बनी रहती है।

      1. घर का मुख्य दरवाजा काले रंग का नहीं होना चाह‌िए। वास्तु के अनुसार इससे घर के मुख‌िया को धोखा, अपमान और लगातार नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।
      2. घर का मेन गेट घर के अन्य दरवाजों से बड़ा होना चाहिए। अगर मेन गेट दूसरे दरवाजों से छोटा हो तो आर्थ‌िक परेशान‌ियों का सामना करना पड़ सकता है।
      3. सुबह सूर्योदय के समय घर की ख‌िड़क‌ियां खुली रखनी चाह‌िए। इससे सकारात्मक उर्जा का संचार होता है। इस समय ख‌िड़क‌ियां बंद रहने से घर के लोगों को स्वास्‍थ्‍य संबंधी परेशान‌ियों का सामना करना पड़ सकता है।
      4. घर के किसी भी दरवाजे पर या उसके पीछे तलवार, चाकू, भाले आदि नहीं लटकाने चाह‌िए। इससे परिवार के सदस्यों के बीच संघर्ष और तनाव बढ़ सकता है।
      5. घर के किसी भी बेडरूम में वॉश बेस‌िन नहीं होना चाह‌िए। ऐसा होने से दांपत्य जीवन में व‌िश्वास की कमी आती है। अगर ऐसा हो वॉश बेसिन के आगे पर्दा जरूर लगा लें।

      आगे की स्लाइड्स पर देखें ग्राफिकल प्रेजेंटेशन...

    • वास्तु के इन 5 कारणों से घर में हमेशा बनी रहती है अशांति और गरीबी, religion hindi news, rashifal news
      +4और स्लाइड देखें
    • वास्तु के इन 5 कारणों से घर में हमेशा बनी रहती है अशांति और गरीबी, religion hindi news, rashifal news
      +4और स्लाइड देखें
    • वास्तु के इन 5 कारणों से घर में हमेशा बनी रहती है अशांति और गरीबी, religion hindi news, rashifal news
      +4और स्लाइड देखें
    • वास्तु के इन 5 कारणों से घर में हमेशा बनी रहती है अशांति और गरीबी, religion hindi news, rashifal news
      +4और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    Trending

    Top
    ×