Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Shaniwar Ke Upay, Shani Dev Ki Puja, Puja Vidhi, How To Worship, Ekadashi Puja Vidhi

शनिवार और एकादशी के शुभ योग में कर सकते हैं ये उपाय, चमक सकती है किस्मत

शनिवार को की गई पूजा से साढ़ेसाती और ढय्या में भी सकारात्मक फल मिल सकते हैं।

यूटीलिटी डेस्क | Last Modified - Jan 25, 2018, 05:00 PM IST

  • शनिवार और एकादशी के शुभ योग में कर सकते हैं ये उपाय, चमक सकती है किस्मत, religion hindi news, rashifal news
    +4और स्लाइड देखें

    इस शनिवार यानी 27 जनवरी एकादशी है। हिंदी पंचांग के अनुसार माघ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को जया एकादशी कहते हैं। इसे अजा और भीष्म एकादशी भी कहा जाता है। इस दिन भगवान विष्णु के लिए व्रत किया जाता है। शनिवार को एकादशी होने से इसका महत्व और अधिक बढ़ गया है। यहां जानिए इस एकादशी पर कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं।

    - शास्त्रों में माघ मास की एकादशी का विशेष महत्व बताया गया है। इस बार शनिदेव के वार शनिवार को ये एकादशी होने से ये बहुत ही शुभ योग बन गया है।

    - इस दिन किए गए उपायों से शनि के दोष दूर हो सकते हैं और भगवान विष्णु के साथ ही देवी लक्ष्मी की कृपा भी प्राप्त की जा सकती है।

    ये है व्रत की कथा

    इंद्र की सभा में एक गंधर्व गीत गा रहा था, लेकिन उसका मन अपनी जीवन साथी को याद कर रहा था। इस कारण से गाते समय उसकी लय बिगड़ गई। इस पर इंद्र ने क्रोधित होकर गंधर्व और उसकी पत्नी को पिशाच योनी में जन्म लेने का श्राप दे दिया। पिशाच योनी में जन्म लेकर पति-पत्नी कष्ट भोग रहे थे। संयोग से माघ मास के शुक्ल की एकादशी पर दुखी होकर इन दोनों ने कुछ भी नहीं खाया और रात में ठंड की वजह से सो भी नहीं पाए। इस तरह अनजाने में इनसे जया एकादशी का व्रत हो गया।

    अनजाने में हुए इस व्रत के प्रभाव से दोनों श्राप से मुक्त हो गए और अपने वास्तविक रूप में लौटकर स्वर्ग पहुंच गए। जब देवराज इंद्र ने गंधर्व को वापस वास्तविक रूप में देखा तो वे हैरान हो गए। गंधर्व और उनकी पत्नी ने बताया कि उनसे अनजाने में ही जया एकादशी का व्रत हो गया। इस व्रत के पुण्य से ही उन्हें पिशाच योनी से मुक्ति मिली है।

    शास्त्रों में बताया गया है कि जया एकादशी के दिन पवित्र मन से भगवान विष्णु की पूजा करनी चाहिए। भक्त को अपने मन में द्वेष, छल-कपट, वासना की भावना नहीं लानी चाहिए। इस दिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ करना चाहिए।

    जो लोग इन बातों का ध्यान रखते हैं, उनकी सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं।

  • शनिवार और एकादशी के शुभ योग में कर सकते हैं ये उपाय, चमक सकती है किस्मत, religion hindi news, rashifal news
    +4और स्लाइड देखें
  • शनिवार और एकादशी के शुभ योग में कर सकते हैं ये उपाय, चमक सकती है किस्मत, religion hindi news, rashifal news
    +4और स्लाइड देखें
  • शनिवार और एकादशी के शुभ योग में कर सकते हैं ये उपाय, चमक सकती है किस्मत, religion hindi news, rashifal news
    +4और स्लाइड देखें
  • शनिवार और एकादशी के शुभ योग में कर सकते हैं ये उपाय, चमक सकती है किस्मत, religion hindi news, rashifal news
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×