Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Kalsarp Dosh, Kundli Reading About Kalsarp Yog In Hindi

ऐसे लोगों की किस्मत बदल जाती है 35 की उम्र के बाद, ये हैं संकेत

ये हैं कालसर्प दोष के संकेत, राहु-केतु 35 की उम्र के बाद बदल देते हैं किस्मत

यूटीलिटी डेस्क | Last Modified - Jan 17, 2018, 05:00 PM IST

  • ऐसे लोगों की किस्मत बदल जाती है 35 की उम्र के बाद, ये हैं संकेत, religion hindi news, rashifal news

    काफी लोग पितृ दोष, ग्रहण दोष, कालसर्प दोष की वजह से परेशानियों का सामना करते हैं। ये योग अशुभ माने गए हैं। यहां जानिए एस्ट्रोलॉजर डॉ. दीक्षा राठी के अनुसार इन योगों से जुड़ी खास बातें...

    ये हैं कालसर्प दोष के संकेत

    1. बुरे सपने आना

    2. अकारण मन में भय होना

    3. रात में डरना

    4. नींद में चमकना

    5. सर्प दिखाई देना

    6. मृत्यु देखना

    7. किसी साये का पास में खड़े होने का आभास होना

    8. सफलता के अंतिम पड़ाव में पहुंचने के बाद असफल होना

    9. अनचाही बात पर विवाद बढ़ना

    10. शत्रुओं की संख्या बढ़ना

    11. किसी असाध्य रोग का इलाज होने पर भी फायदा न होना

    ये सभी संकेत ये बताते हैं कि व्यक्ति की कुंडली में कालसर्प दोष है।

    कुंडली में राहु-केतु के अंश, उनकी स्थिति, उनकी दृष्टि देखकर ही कालसर्प की पूजा करवाना उचित रहता है। कभी-कभी इंसान 35 वर्ष तक की आयु तक आराम की जिंदगी गुजारता है और अचानक धन हानि होने लगती है और वह गरीब हो जाता है। कभी-कभी कोई व्यक्ति 35 वर्ष तक गरीब रहता है और अचानक वह धनवान हो जाता है। ऐसा राहु-केतु की वजह से होता है।

    राहु-केतु रहस्यमयी ग्रह हैं। जिस व्यक्ति पर राहु-केतु की कृपा हो जाती है, वह सबसे ऊंचे शिखर पर पहुंच सकता है।

    कालसर्प दोष के लिए कर सकते हैं उपाय

    1. हर शनिवार पीपल की पूजा करें। जल चढ़ाकर सात परिक्रमा करें।

    2. किसी पवित्र नदी में चांदी के नाग-नागिन बहा दें।

    3.शिवलिंग के साथ ही नाग देवता की भी पूजा रोज करें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×