Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Jyotish Ke Upay, Dhan Labh Ki Tips In Hindi, How To Get Success In Hindi, Dhan Labh

जब घर में होने लगे ये बातें तो समझ लें दरिद्रता का हो सकता है प्रवेश, इनसे बचें

ज्योतिष के उपाय करते रहने से गरीबी दूर हो सकती है।

यूटिलिटी डेस्क | Last Modified - Mar 04, 2018, 05:00 PM IST

  • जब घर में होने लगे ये बातें तो समझ लें दरिद्रता का हो सकता है प्रवेश, इनसे बचें, religion hindi news, rashifal news

    घर में होने वाली छोटी-छोटी बातों में कई संकेत छिपे रहते हैं। इन संकतों को समझकर हम भविष्य में होने वाली बहुत सी परेशानियों से बच सकते हैं। ज्योतिष के अनुसार जब दरिद्रता बढ़ने की संभावनाएं रहती हैं तो घर में छोटी-छोटी बातें इशारा करती हैं। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. विशाल दयानंद शास्त्री के अनुसार गरीबी बढ़ाने वाले संकेत कौन-कौन से हैं...

    1. पानी का टपकना

    अगर आपके घर के किसी भी नल या फिर टंकी में से पानी टपकता है तो इसका मतलब यही है कि निकट भविष्य में बहुत ज्यादा खर्च हो सकता है। ध्यान रखें घर के सभी नल हमेशा बंद रखें और टंकियों से पानी का टपना ठीक करवाएं। जब भी पानी पीना हो तो गिलास में उतना ही लें जितने की आवश्यकता है। अगर गिलास में पानी बच जाता है तो उसे फेंके नहीं, कहीं बहा दें।

    2. पेड़-पौधों की सूखी पत्तियां

    अगर आपके घर में लगे पेड़-पौधों की पत्तियां सूखने लगे तो उन्हें तुरंत काट दें। घर में लगे पौधों को हमेशा हरा-भरा रखें। घर में पेड़ों पर सुखी पत्ती रहने से बुध ग्रह खराब होता है और कर्ज में बढ़ोतरी होती है। पेड़-पौधों को उचित पानी अवश्य दें।

    3. पूजा और सजावट के फूल

    घर की सजावट के लिए कभी नकली फूलों का उपयोग नहीं करना चाहिए। अगर आपको फूल पसंद हैं तो हमेशा प्राकृतिक फूलों को ही घर में रखें। जब पूजा की माला सुख जाए तो उसे घर से बाहर कर देना चाहिए।

    4. बिजली का सामान

    अगर घर में बिजली का कोई सामान काम नहीं कर रहा है या खराब है तो उसे जल्दी से जल्दी ठीक करवाएं या घर से बाहर कर दें। इनसे राहु ग्रह प्रबल हो जाता है और घर की नकारात्मकता बढ़ जाती है।

    5. बिल्ली का प्रवेश

    जिस घर में बिल्ली का प्रवेश बार-बार होने लगता है अथवा जिस घर पर आकर बिल्ली रोती है या बिल्लियों का झगड़ा होता है, उस घर में परेशानियां बढ़ती हैं और धन का आगमन रुक जाता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×