Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Somvati Amawasya On 18 December, Do This Measures.

18 दिसंबर को सोमवार और अमावस्या का योग, करें ये उपाय

सोमवती अमावस्या होने से इस दिन दान, उपवास आदि का महत्व और भी बढ़ गया है।

जीवन मंत्र डेस्क | Last Modified - Dec 16, 2017, 05:00 PM IST

  • 18 दिसंबर को सोमवार और अमावस्या का योग, करें ये उपाय, religion hindi news, rashifal news
    +5और स्लाइड देखें

    18 दिसंबर को सोमवार व अमावस्या का योग बन रहा है। सोमवती अमावस्या होने से इस दिन दान, उपवास आदि का महत्व और भी बढ़ गया है। धर्म ग्रंथों के अनुसार अमावस्या पितरों की तिथि है, इसलिए इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से पितरों की आत्मा को शांति मिलती है। पितरों की शांति के लिए सोमवती अमावस्या पर कौन से उपाय करें, ये जानने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-

    क्यों खास है अमावस्या तिथि, जानिए
    हिन्दू पंचांग का एक माह 15-15 दिनों के दो पक्षों में विभाजित होता है। शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष। कृष्ण पक्ष के पहले दिन से माह का आरंभ मानते हैं। इसी क्रम में कृष्ण पक्ष का पन्द्रहवां दिन या अंतिम तिथि अमावस्या कहलाती है। धर्मग्रंथों में चंद्रमा की सोलहवीं कला को अमा कहा गया है। स्कन्दपुराण का श्लोक है-

    अमा षोडशभागेन देवि प्रोक्ता महाकला।
    संस्थिता परमा माया देहिनां देहधारिणी ।।

    जिसका अर्थ है कि चन्द्रमण्डल की अमा नाम की महाकला है, जिसमें चन्द्रमा की सोलह कलाओं की शक्ति शामिल है। जिसका क्षय और उदय नहीं होता।

    सरल शब्दों में कहें तो सूर्य और चन्द्रमा के मिलन के काल को अमावस्या कहते हैं। दूसरे अर्थ में इस दिन चन्द्रमा तथा सूर्य एक साथ रहते हैं। इसीलिए शास्त्रों में इसके अनेक नाम आए हैं। जैसे- अमावस्या, सूर्य-चन्द्र संगम, पंचदशी आदि। अमावस्या माह में एक बार ही आती है।

    पितरों की तिथि है अमावस्या
    शास्त्रों में अमावस्या तिथि के स्वामी पितृदेव को माना जाता है। इसलिए इस दिन पितरों की तृप्ति के लिए तर्पण, दान-पुण्य का महत्व है। जब अमावस्या पर सोम, मंगलवार और गुरुवार के साथ अनुराधा, विशाखा और स्वाति नक्षत्र का योग बनता है, तो यह बहुत पवित्र योग माना गया है। इसी तरह शनिवार और चतुर्दशी का योग भी विशेष फल देने वाला माना जाता है। ऐसे योग होने पर अमावस्या पर तीर्थ स्नान, जप, तप और व्रत के पुण्य से ऋण या कर्ज और पापों से मिली पीड़ाओं से छुटकारा मिलता है। इसलिए यह संयम, साधना और तप के लिए श्रेष्ठ दिन माना जाता है।


  • 18 दिसंबर को सोमवार और अमावस्या का योग, करें ये उपाय, religion hindi news, rashifal news
    +5और स्लाइड देखें
  • 18 दिसंबर को सोमवार और अमावस्या का योग, करें ये उपाय, religion hindi news, rashifal news
    +5और स्लाइड देखें
  • 18 दिसंबर को सोमवार और अमावस्या का योग, करें ये उपाय, religion hindi news, rashifal news
    +5और स्लाइड देखें
  • 18 दिसंबर को सोमवार और अमावस्या का योग, करें ये उपाय, religion hindi news, rashifal news
    +5और स्लाइड देखें
  • 18 दिसंबर को सोमवार और अमावस्या का योग, करें ये उपाय, religion hindi news, rashifal news
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×