Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Holashtak 2018 - Dont Repeat These 3 Mistakes On Holi Night

आज से होली की रात तक भूलकर भी न करें ये 3 काम, वरना हो सकता है कुछ अशुभ

23 फरवरी से 1 मार्च 2018 तक होलाष्टक रहेगा और इस दौरान घर में सावधानी रखनी चाहिए।

यूटिलिटी डेस्क | Last Modified - Feb 23, 2018, 11:33 AM IST

  • आज से होली की रात तक भूलकर भी न करें ये 3 काम, वरना हो सकता है कुछ अशुभ, religion hindi news, rashifal news
    +3और स्लाइड देखें

    अगले महीने गुरुवार, 1 मार्च की रात होलिका दहन होगा, इससे पहले शुक्रवार, 23 फरवरी से होलाष्टक लग गया है। हिन्दी पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास की पूर्णिमा पर होली मनाई जाती है। पूर्णिमा से 8 दिन पहले यानी फाल्गुन के मास शुक्ल पक्ष की अष्टमी से होलाष्टक शुरु हो जाते हैं। ज्योतिष के मुताबिक होलाष्टक में सभी तरह के शुभ काम करना वर्जित रहता है। इस दौरान किए गए शुभ काम सफल नहीं हो पाते हैं और परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार 23 फरवरी से 1 मार्च तक कौन-कौन काम करने से बचना चाहिए...

    होलाष्टक से जुड़ी मान्यता

    होलाष्टक को लेकर मान्यता है कि प्राचीन समय में दैत्यराज हिरण्यकश्यप का पुत्र प्रह्लाद भगवान विष्णु का भक्त था। इसलिए दैत्यराज ने उस समय फाल्गुन शुक्ल पक्ष की अष्टमी से भक्त प्रह्लाद को बंदी बना लिया था और तरह-तरह की यातनाएं दी थी। इसके बाद पूर्णिमा पर होलिका ने भी प्रह्लाद को जलाने का प्रयास किया, लेकिन वह स्वयं ही जल गई और प्रह्लाद बच गए। होली से पहले इन आठ दिनों में प्रह्लाद को यातनाएं दी गई थीं, इसकारण ये समय होलाष्टक कहा जाता है।

    जानिए होलाष्टक में कौन-कौन से काम न करें

    1.पति-पत्नी को होलाष्टक के दिनों में संयम रखना चाहिए। इस दौरान बने संबंध से पैदा होने वाली संतान को जीवनभर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। होलाष्टक का समय भक्ति और ध्यान के लिए श्रेष्ठ है।

    2.ज्योतिष में होली का काफी अधिक महत्व है। इस दिन किए गए पूजा-पाठ से सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं। अगर आप महालक्ष्मी की कृपा पाना चाहते हैं तो होली तक घर में शांति बनाए रखें। किसी भी प्रकार का वाद-विवाद न करें। अन्यथा होली पर की गई पूजा से शुभ फल नहीं मिल पाएंगे।

    3.इन दिनों में सुबह देर तक सोने से बचना चाहिए। सुबह जल्दी उठें और स्नान के बाद सूर्य को जल चढ़ाएं। इस बात का ध्यान नहीं रखेंगे तो आलस्य बढ़ेगा और देवी-देवता की कृपा नहीं मिल पाएगी।

    ये काम भी न करें

    होलाष्टक के दिनों में शुभ काम जैसे विवाह, सगाई, नए घर में प्रवेश, मुंडन, गोद भराई आदि नहीं करना चाहिए। ज्योतिष की मान्यता है कि इन दिनों में सभी नौ ग्रहों का स्वभाव उग्र रहता है और उनसे शुभ फल नहीं मिल पाते हैं। इसीवजह से होलाष्टक में ये सभी काम नहीं किए जाते हैं।

  • आज से होली की रात तक भूलकर भी न करें ये 3 काम, वरना हो सकता है कुछ अशुभ, religion hindi news, rashifal news
    +3और स्लाइड देखें
  • आज से होली की रात तक भूलकर भी न करें ये 3 काम, वरना हो सकता है कुछ अशुभ, religion hindi news, rashifal news
    +3और स्लाइड देखें
  • आज से होली की रात तक भूलकर भी न करें ये 3 काम, वरना हो सकता है कुछ अशुभ, religion hindi news, rashifal news
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×