Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Hanuman Jayanti 2018 - Hanuman Mantra हनुमान जयंती 2018, हनुमानजी के 5 चमत्कारी मंत्र

हनुमान जयंती 2018: हनुमानजी के 5 चमत्कारी मंत्र, 31 मार्च को बोलेंगे तो दूर हो सकती हैं परेशानियां

कलियुग में हनुमानजी सबसे जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता माने गए हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 31, 2018, 11:15 AM IST

  • हनुमान जयंती 2018: हनुमानजी के 5 चमत्कारी मंत्र, 31 मार्च को बोलेंगे तो दूर हो सकती हैं परेशानियां, religion hindi news, rashifal news

    यूटिलिटी डेस्क. हिन्दी पंचांग के अनुसार शनिवार, 31 मार्च 2018 चैत्र मास की पूर्णिमा है। इस तिथि पर हनुमान जयंती मनाई जाती है। अगर आप हनुमानजी के भक्त हैं तो ये दिन उनकी कृपा पाने का श्रेष्ठ मुहूर्त है। इस दिन हनुमानजी के सभी मंदिरों में भक्तों की भीड़ लगी रहेगी। बजरंग बली के दर्शन और पूजा के साथ ही यहां बताए जा रहे मंत्रों का जाप भी कर लेंगे तो आपकी सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं। यहां जानिए उज्जैन के एस्ट्रोलॉजर पं. दयानंद शास्त्री के अनुसार हनुमान को प्रसन्न करने वाले कुछ खास मंत्र…

    ऐसे करें मंत्र जाप

    हनुमानजी के मंत्र का जाप करने के लिए 31 मार्च को सुबह जल्दी उठें और नहाने के बाद किसी हनुमान मंदिर जाएं। इसके बाद दर्शन और पूजा करने करे। मंदिर में किसी शांत स्थान पर बैठकर मंत्र का जाप 108 बार करें। मंत्र जाप के लिए रुद्राक्ष की माला का उपयोग करें।

    ये हैं हनुमानजी के मंत्र

    पहला मंत्र

    मनोजवं मारुततुल्यवेगम् जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठम्।

    वातात्मजं वानरयूथमुख्यं श्री रामदूतं शरणं प्रपद्ये।।

    इस मंत्र का जाप करने से आपकी सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं।

    दूसरा मंत्र

    मर्कटेश महोत्साह सर्वशोक विनाशन। शत्रून संहर मां रक्षा श्रियं दापय मे प्रभो।।

    इस मंत्र के जाप से घर में सुख-समृद्धि बढ़ सकती है।

    तीसरा मंत्र

    हनुमान अंगद रन गाजे।

    हांके सुनकृत रजनीचर भाजे।।

    इस मंत्र का जाप करने से भक्त के कार्यों में आ रही सभी बाधाएं हनुमानजी दूर करते हैं।

    चौथा मंत्र

    नासे रोग हरे सब पीरा।

    जो सुमिरै हनुमत बल बीरा।।

    इस चौपाई का रोजाना 108 बार जाप करने से रोगों से मुक्ति मिल सकती है।

    पांचवां मंत्र

    वायुपुत्र नमस्तुभ्यं पुष्पं सौवर्णकं प्रियम्।

    पूजयिष्यामि ते मूर्धि नवरत्न-समुज्जलम्।।

    इस मंत्र का जाप करते हुए हनुमानजी को फूल चढ़ाना चाहिए। इससे सौभाग्य मिलता है।

    दुर्भाग्य दूर कर सकते हैं हनुमानजी के ये 10 रामबाण उपाय, इस शनिवार करें इनमें से कोई

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×