Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Jyotish Nidaan» Palmistry: You Will Become Rich And Prosperous

तेज दिमाग वाले होते हैं वो लोग, जिनके हाथ में बनता है ऐसा चांद

हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार हथेलियों में बनी रेखाएं व्‍यक्‍ति के भूत, भविष्‍य और वर्तमान के बारे में बता देती हैं।

जीवनमंत्र डेस्क | Last Modified - Nov 29, 2017, 10:48 AM IST

  • तेज दिमाग वाले होते हैं वो लोग, जिनके हाथ में बनता है ऐसा चांद, religion hindi news, rashifal news
    +2और स्लाइड देखें
    palmistry

    हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार हथेलियों में बनी रेखाएं व्‍यक्‍ति के भूत, भविष्‍य और वर्तमान के बारे में बता देती हैं। आज यहां जानिए हथेलियों में बनने वाले आधे चांद का क्या मतलब होता है और इस निशान से क्या-क्या मालूम होता है।

    ऐसे बनता है आधा चांद
    हथेली में हृदय रेखा छोटी उंगली के नीचे से शुरू होती है। कुछ लोग जब दोनों हथेलियों को पास लेकर आते हैं और दोनों की हाथों की हृदय रेखा मिलने पर आधा चंद्र बनता है। ये शुभ चिह्न है और सभी के हाथों में नहीं बनता है।

    अगली स्लाइड पर पढ़ें- हाथ में चांद के बारे में कुछ और बातें ...

  • तेज दिमाग वाले होते हैं वो लोग, जिनके हाथ में बनता है ऐसा चांद, religion hindi news, rashifal news
    +2और स्लाइड देखें
    palmistry

    सबके हाथ में बनते हैं हृदय रेखा से अलग-अलग निशान
    दोनों हथेलियों की हृदय रेखा पास हर व्‍यक्‍ति के हाथों में अलग-अलग निशान बना दिखता है। किसी के हाथ में आधा चंद्रमा बना हुआ होता है तो किसी के हथेलियों में ये रेखाएं मिलती ही नहीं हैं। इन सभी निशानों का अलग-अलग मतलब होता है।

    आधा चंद्रमा बने तो
    जिन लोगों के आधा चंद्रमा बना हुआ दिखाई देता है, वे लोग काफी अट्रैक्‍टिव स्‍वभाव के होते हैं। ऐसे लोग जीवन साथी के प्रति काफी भावुक रहते हैं, लेकिन ये लोग इस भावना को छिपाने की कोशिश करते हैं। ये काफी तेज दिमाग वाले होते हैं। कोई भी मुश्‍किल इनके लिए बड़ी नहीं होती है।

  • तेज दिमाग वाले होते हैं वो लोग, जिनके हाथ में बनता है ऐसा चांद, religion hindi news, rashifal news
    +2और स्लाइड देखें
    palmistry

    अगर हृदय रेखाएं मिलाने पर सीधी रेखा बने तो
    अगर दोनों हथेलियों को जोड़ने पर सीधी रेखा बनती है तो व्यक्ति काफी शांत और दयालु होता है। इन्हें हर काम आराम से करना अच्‍छा लगता है। वैसे कहा जाता है कि ऐसे लोग बहुत कम ही होते हैं, जिनके हाथों में सीधी रेखा बनती है।

    अगर हृदय रेखाएं नहीं मिलती हैं तो
    हथेलियों को जोड़ने पर अगर ये रेखाएं जुड़ती नहीं हैं और टेढ़ी-मेढ़ी नजर आती है तो इसका मतलब यह है कि व्यक्ति को अपनी उम्र से ज्यादा बड़े लोगों के साथ रहना पसंद होता है। इन लोगों को इस बात से बिल्‍कुल भी फर्क नहीं पड़ता है कि लोग इनके बारें में क्‍या सोचते हैं या फिर क्‍या कहते हैं।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×