Home» Jeevan Mantra »Jeevan Mantra Junior »Kahani Aur Kisse» Interesting Stories & Legends About Lord Shiva

शिव को यूं ही नहीं कहा जाता महादेव, ये हैं असली कारण

जीवनमंत्र डेस्क | Feb 23, 2017, 01:14 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
शिव के भक्त उन्हें भोलेनाथ के नाम से भी जानते हैं। आइए जानते हैं शिव के समान नजरिए और उनके भोलेपन से जुड़ी कुछ ऐसी ही पौराणिक कथाओं को जिन्हें पढ़कर शिव को मानने वालों की आस्था कई गुना बढ़ जाती है।
मत्स्य पुराण के अनुसार शुक्राचार्य यानी राक्षसों के गुरु ने कठोर तप से शिव को प्रसन्न कर लिया। शिव ने उन्हें वरदान दिया कि तुम युद्ध में देवताओं को भी पराजित कर दोगे और तुम्हे कोई नहीं मार सकेगा। भगवान शिव ने उन्हें पूरे संसार के धन कोष का अध्यक्ष भी बना दिया। इसी वरदान के कारण शुक्राचार्य सभी लोकों की संपत्ति के स्वामी हो गए और उस धन का उपयोग देवताओं की बरबादी के लिए करने लगे।
एक अन्य ग्रंथ के अनुसार शुक्राचार्य ने तप के बाद शिवजी से मृतसंजीवनी विद्या का वरदान प्राप्त कर लिया था।बाद में दैत्य गुरु ने इस विद्या का उपयोग युद्ध में मारे गए राक्षसों को फिर से जीवित करने में शुरू कर दिया। जिससे देवताओं की कई बार युद्ध में हार हुई।
आगे पढ़ें- रावण को वरदान की कहानी....
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Interesting Stories & Legends About Lord Shiva
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      Trending Now

      पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

      दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

      * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
      Top