Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm » Some Amazing Facts About Rebirth In Hinduism

अगले जन्म में आप क्या बनेंगे, इस आसान तरीके से जान सकते हैं

अगले जन्म में आप इंसान बनेंगे या कुछ और ऐसे कर सकते हैं मालूम

जीवन मंत्र डेस्क | Last Modified - Nov 26, 2017, 05:00 PM IST

  • अगले जन्म में आप क्या बनेंगे, इस आसान तरीके से जान सकते हैं
    +2और स्लाइड देखें

    हिन्दू धर्म के अनुसार व्यक्ति का मौजूदा जीवन ना केवल उसके द्वारा किए जा रहे कर्मों से बनता है, अपितु उसके पिछले जन्म में किए गए अच्छे-बुरे कर्मों का योगदान भी इसी जन्म में होता है। मनुष्य कैसे कर्म करता है उसी के आधार पर उसे अगली योनि प्राप्त होती है।

    महर्षि व्यास ने इस बात का पूरा वर्णन किया है कि कौन-सा कर्म करने पर मनुष्य को अगला जन्म किस योनि में मिलता है। आज हम आपको इसी के बारे में पूरी जानकारी देंगे...

    1. जो मनुष्य परायी स्त्री से संबंध बनाता है वह सबसे पहले भेड़िया बनता है और फिर एक कुत्ते के रूप में जन्म लेता है। इसके बाद वह सियार, गीद्ध, सांप, कौआ बनता है। इन सभी जन्मों को भोगने के बाद ही अंत में वह बगुले का जन्म प्राप्त करता है, जिसे पूरा करने के बाद उसे मनुष्य योनि की प्राप्ति होती है।

    आगे की स्लाइड्स पर जानें अन्य बातों के बारे में...

    तस्वीरों का प्रयोग प्रस्तुतिकरण के लिए किया गा है।

  • अगले जन्म में आप क्या बनेंगे, इस आसान तरीके से जान सकते हैं
    +2और स्लाइड देखें

    2. जो व्यक्ति अपने पिता या बड़े भाई का अपमान करता है, समाज के सामने उसे नीचा दिखाता है, अगले जन्म में वह व्यक्ति कौंच नामक पक्षी के रूप में जन्म लेता है। इस जन्म को वह 10 वर्षों तक भोगता है और अगर कौंच जन्म में वह अच्छे कर्म करें तो फिर ही उसे मनुष्य योनि में जन्म मिलता है।

    3. चोरी करने वाले व्यक्ति को कीड़े के रूप में जन्म मिलता है। जो व्यक्ति चांदी के सामान की चोरी करता है, वह कबूतर बनता है। इसके अलावा जो व्यक्ति किसी के वस्त्रों की चोरी करता है, उसे अगले जन्म में तोता बनकर जन्म लेना होता है। सुगंधित पदार्थों की चोरी करने वाला व्यक्ति छछूंदर के रूप में जन्म लेता है।

  • अगले जन्म में आप क्या बनेंगे, इस आसान तरीके से जान सकते हैं
    +2और स्लाइड देखें

    4. जो व्यक्ति शस्त्र से किसी की हत्या करता है उसे गधे की योनि प्राप्त होती है। गधे के बाद वह मृग योनि को प्राप्त करता है।

    5. देवताओं और पितरों को संतुष्ट किए बिना मरने वाला व्यक्ति सौ वर्षों तक कौए की योनि में रहता है। इसके बाद मुर्गा और फिर सांप की योनि में रहने के बाद उसके पापों का अंत होता है। उसके बाद वह मनुष्य के रूप में जन्म लेता है।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Some Amazing Facts About Rebirth In Hinduism
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×