Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm » These 10 Names Are Symbol Of Bad Luck.

गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण

हर माता-पिता चाहते हैं कि उनके बेटे या बेटी का नाम ऐसा हो जो सकारात्मक (पॉजिटिव) हो।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 02, 2018, 11:37 AM IST

  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क.संतान के जन्म होते ही उसके नाम पर विचार किया जाने लगता है। हर माता-पिता चाहते हैं कि उनके बेटे या बेटी का नाम ऐसा हो जो सकारात्मक (पॉजिटिव) हो। हिंदू परिवारों में आज भी पौराणिक पात्रों (राम, कृष्ण, अर्जुन आदि) के नाम पर बच्चों का नाम रखा जाता है। पुराणों में कई चरित्र ऐसे भी हैं, जिनके नाम पर अपने बच्चों का नाम रखना माता-पिता पसंद नहीं करते क्योंकि इन नामों के साथ कहीं-कहीं न अपशकुन जुड़े हुए हैं या पुराणों में इन कैरेक्टर्स को अच्छी नजर से नहीं देखा जाता। ये नाम इस प्रकार हैं-

    विभीषण

    विभीषण का अर्थ है- जिसे कभी क्रोध ना आता हो। सुंदर अर्थ होने के बावजूद लोग यह नाम रखने से बचते हैं क्योंकि उन्होंने अपने भाई रावण की मृत्यु का रहस्य श्रीराम को बताया था। इसलिए उन्हें घर का भेदी भी कहते हैं।

    द्रौपदी

    द्रौपदी राजकुमारी थी, इसके बाद भी लोग अपनी बेटी का नाम द्रौपदी नहीं रखते। द्रौपदी को पांच पांडवों के साथ विवाह करना पड़ा था। इस बात के चलते यह नाम नहीं रखा जाता।

    मंदोदरी

    रामायण के अनुसार, मंदोदरी दयालु और अच्छे गुणों वाली स्त्री थी, लेकिन रावण की पत्नी होने के कारण लोग अपनी बेटी का नाम मंदोदरी रखने से कतराते हैं।

    सुग्रीव

    सुग्रीव भगवान श्रीराम का परम भक्त था, लेकिन वही अपने भाई की मृत्यु का कारण बना। इसी कारण लोग अपने बेटे का नाम सुग्रीव नहीं रखते।

    अश्वत्थामा

    अश्वत्थामा साहसी और बहादुर योद्धा था, लेकिन उसने कुछ बुरे काम किए, जिनकी वजह से श्रीकृष्ण ने उसे सदियों तक पीड़ा झेलने का श्राप दिया। जिस कारण कोई भी अपने बच्चे का नाम अश्वत्थामा नहीं रखता।

    गांधारी

    गांधारी महान शक्तियों और गुणों वाली महिला थी, लेकिन कुरु वंश में विवाह के बाद उसे दुखों का सामना करना पड़ा। उसके सभी पुत्रों की मृत्यु हो गई, इसलिए कोई भी अपनी बेटी का नाम गांधारी नहीं रखता।

    कैकेयी

    कैकेयी एक राज परिवार से संबंध रखती थी, लेकिन उसने नौकरानी की सलाह पर अपने ही परिवार के सदस्यों में भेद-भाव किया और दुखों की कारण बनी। इसलिए आज भी कैकेयी नाम नहीं रखा जाता।

    दुर्योधन

    दुर्योधन एक बलवान और महान योद्धा था, लेकिन अपने लालच के चलते उसने अपने ही परिवार का नाश कर दिया। इसलिए अपने पुत्र का नाम दुर्योधन रखना भी अच्छा नहीं माना जाता।

    मंथरा

    मंथरा की वजह से श्रीराम, लक्ष्मण, देवी सीता, राजा दशरथ और उनके पूरे परिवार को कई दुखों और परेशानियों का सामना करना पड़ा था। इसी कारण से मंथरा नाम नहीं रखा जाता।

    शकुनि

    शकुनि चतुर सलाहकार था, लेकिन उसका नाम रखना अच्छा नहीं होता क्योंकि उसने घृणा और प्रतिशोध के चलते पूरे कुरुवंश में दरारें पैदा कर दी और उसके कारण कुरुवंश का नाश हो गया।

  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
  • गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण
    +9और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×