Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm » Garun Puran And Happy Life, Unknown Facts About Garun Puran In Hindi, Goddess Laxmi

स्त्री हो या पुरुष ये 5 काम किए तो महालक्ष्मी छोड़ देती हैं साथ, बढ़ने लगती है दरिद्रता

शास्त्रों में बताए गए गलत काम करने से देवी लक्ष्मी की कृपा नहीं मिल पाती है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 02, 2018, 11:38 AM IST

  • स्त्री हो या पुरुष ये 5 काम किए तो महालक्ष्मी छोड़ देती हैं साथ, बढ़ने लगती है दरिद्रता

    यूटिलिटी डेस्क. दैनिक जीवन के कुछ ऐसे काम बताए गए हैं, जो हमारे भाग्य पर अच्छा या बुरा असर डालते हैं। अशुभ काम करने पर दुर्भाग्य बढ़ सकता है और जीवन में परेशानियों का आगमन हो सकता है। गीताप्रेस द्वारा प्रकाशित गरुड़ पुराण के नीतिसार में ऐसे काम बताए गए हैं, जिनकी वजह से महालक्ष्मी साथ छोड़ देती हैं। महालक्ष्मी की कृपा के बिना व्यक्ति को दरिद्रता का सामना करना पड़ता है। यहां जानिए गरुड़ पुराण की नीतियां...

    पहला नीति

    जो व्यक्ति अपने पैर साफ नहीं रखता है, जिसके दांत गंदे रहते हैं, वह देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त नहीं कर पाता है। हर व्यक्ति को हमेशा अपने पैर और दांत साफ रखना चाहिए।

    दूसरी नीति

    जिस व्यक्ति के बाल साफ नहीं रहते हैं, जो साफ कपड़े नहीं पहनता है, उसे लक्ष्मी त्याग देती है।

    तीसरी नीति

    जो व्यक्ति दिन में या शाम के समय अकारण की सोता है, उसे देवी लक्ष्मी की कृपा नहीं मिल पाती है। सुबह सूर्यास्त के बाद उठना भी गलत आदत है। इन तीन समय में सोने से बचना चाहिए।

    चौथी नीति

    कभी भी परोसे गए भोजन की बुराई नहीं करनी चाहिए। अन्न का अपमान करने पर माता अन्नपूर्णा नाराज होती हैं। साथ ही, देवी लक्ष्मी भी ऐसे व्यक्ति का साथ छोड़ देती हैं जो भोजन की बुराई करता है।

    पांचवी नीति

    जो व्यक्ति भूख से ज्यादा भोजन करता है, थाली में छोड़ देता है, कठोर वचन बोलता है, बड़ों का अपमान करता है, वह कभी भी देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त नहीं कर पाता है।

    ये भी पढ़ें-

    मार्च-19 तक गुरु-शनि इन राशियों की चमकाएंगे किस्मत, बाकी राशियों को रहना होगा अलर्ट

    सोमवार को कर लें ये उपाय, पूरे महीने मिल सकता है धन लाभ

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×