Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm Granth » Yamraj Ke Upay, Durbhagya Dur Karne Ka Upay

महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा

देवी-देवताओं को प्रसन्न करने के उपाय...

यूटीलिटी डेस्क | Last Modified - Jan 11, 2018, 05:00 PM IST

  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
    सत्यवान और सावित्री की कथा के बारे में तो लगभग सभी लोग जानते ही होंगे। कथा के अनुसार विवाह के कुछ समय बाद ही सत्यवान की मृत्यु हो गई थी। पति की मृत्यु के बाद सावित्री ने अपने पतिव्रता धर्म का बड़ा उदाहरण देते हुए अपने पति को मृत्यु के देवता यमराज से वापस मांग लिया था।
    जब सावित्री अपने पति के प्राण वापस लेने के लिए यमराज के पास गई तब उसने यमराज से जीवन से जुड़े बहुत से सवालों का जवाब मांगे। सावित्री के पतिव्रता धर्म से बेहद प्रसन्न होकर यमराज ने उसके सभी सवालों का जवाब देते हुए यह भी बताया था कि कैसे कोई व्यक्ति भाग्यशाली बन सकता है और किस तरह वह विभिन्न देवी-देवताओं की कृपा प्राप्त कर सकता है।
    ब्रह्मवैवर्तपुराण में उन सभी बातों का उल्लेख मौजूद है जो यमराज को प्रसन्न करती है और जिनका पालन कर मनुष्य भाग्यशाली बन सकता है।

    1. भाद्रपद की शुक्ल अष्टमी से शुरु करते हुए लगातार 15 महीनों तक देवी लक्ष्मी का पूजन करता है। ऐसा करने से देवी लक्ष्मी सहित यमराज की कृपा भी मनुष्य पर बनी रहती है।


    2. यमराज के अनुसार, जो व्यक्ति रोज शिवलिंग पर जल चढ़ाता है और उसकी पूजा करता है, उसके सारे दुख और तकलीफें समाप्त होती है और दरिद्रता से भी छुटकारा मिलता है।

    3. हर महीने के शुक्ल पक्ष की सप्तमी के दिन सूर्य देव की पूजा करने से और उन्हें जल चढ़ाने से व्यक्ति को समाज में मान-सम्मान की प्राप्ति होती है और वो प्रतिष्ठा हासिल करता है।

    4. भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की द्वादशी को देवराज इन्द्र की पूजा करने से मनुष्य को सुख और वैभव की प्राप्ति होती है। ऐसे मनुष्य की हर मनोकमना पूरी होती है।
    5. हर माह की पूर्णिमा पर भगवान श्रीकृष्ण का पूजन करने से उनकी विशेष कृपा मिलती है। ऐसा व्यक्ति के सभी दुख यमराज दूर करते हैं।
    6. प्रत्येक महीने में दो एकादशियां आती हैं। जो व्यक्ति इन दोनों एकादशियों पर व्रत रखता है, उसे विशेष फल की प्राप्ती होता है। ऐसे व्यक्ति की दरिद्रता समाप्त होती है और उसे धन-वैभव के साथ स्वास्थ्य लाभ होता है।
    7. जो व्यक्ति कार्तिक महीने में नियमित रूप से भगवान विष्णु को तुलसी अर्पित करता है, उसे बहुत ही जल्द महालक्ष्मी की कृपा मिलती है और साथ ही उसके समस्त दुख और परेशानियों का भी नाश होता है।
    8. कार्तिक महीने के हर सोमवार को शिवलिंग के पास देसी घी का दीया जलाने से मनुष्य को उसके जान-अनजाने किए गए पापों से मुक्ति मिलती है और दरिद्रता भी पास नहीं आती।
    9. माघ के महीने में सुबह-सुबह किसी पवित्र नदी में स्नान करने से व्यक्ति को अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। ऐसे लोगों का साथ भाग्य कभी नहीं छोड़ता।
    10. वैशाख के महीने में सत्तू का दान करने वाले व्यक्ति को विष्णु जी और मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है।

    आगे देखें खबर का ग्राफिकल प्रेजेंटेशन...

  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
  • महीने में एक बार ये काम करने वालों पर अपनी कृपा बरसाते हैं यमराज, करते हैं रक्षा
    +10और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×