Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm Granth » Interesting Facts Of Bhishma Pitamah On Bhishm Jayanti 2018

बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा

10 जनवरी, बुधवार को भीष्म पितामह की जयंती है। इस अवसर पर हम आपको भीष्म पितामह से जुड़ी कुछ ऐसी रोचक बातें बता रहे हैं।

जीवन मंत्र डेस्क | Last Modified - Jan 08, 2018, 06:34 PM IST

  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें

    धर्म ग्रंथों के अनुसार, 10 जनवरी, बुधवार को भीष्म पितामह की जयंती है। इस अवसर पर हम आपको भीष्म पितामह से जुड़ी कुछ ऐसी रोचक बातें बता रहे हैं, जो कम लोग ही जानते हैं।

    महर्षि वेदव्यास द्वारा रचित महाभारत ग्रंथ में कई प्रमुख पात्र हैं, भीष्म पितामह भी उनमें से एक हैं। भीष्म पितामह एकमात्र ऐसे पात्र हैं जो महाभारत की शुरूआत से अंत तक इसमें बने रहे। भीष्म बाण लगने के 58 दिन तक जीवित रहे थे। उन्होने सूर्य के उत्तरायण होने का इंतजार किया। फिर इच्छामृत्यु के वरदान से सूर्य उत्तराण होने के बाद अपने प्राण त्यागे थे।

    पितामह ने खुद बताया था अपनी मृत्यु का राज -

    जब कौरवों व पांडवों में युद्ध हो रहा था, उस समय भीष्म कौरवों की ओर से युद्ध कर रहे थे। जब पांडवों को लगा कि वे किसी भी तरह से भीष्म को पराजित नहीं कर सकते तो उन्होंने जाकर भीष्म से ही इसका उपाय पूछा। तब भीष्म पितामह ने बताया कि तुम्हारी सेना में जो शिखंडी है, वह पहले एक स्त्री था, बाद में पुरुष बना।

    अर्जुन शिखंडी को आगे करके मुझ पर बाणों का प्रहार करे। वह जब मेरे सामने होगा तो मैं बाण नहीं चलाऊंगा। इस मौके का फायदा उठाकर अर्जुन मुझे बाणों से घायल कर दे। इस प्रकार मुझ पर विजय प्राप्त करने के बाद ही तुम यह युद्ध जीत सकते हो। पांडवों ने यही युक्ति अपनाई और भीष्म पितामह पर विजय प्राप्त की।

    आगे पढ़ें भीष्म पितामह से जुड़ी अन्य रोचक बातें-

  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
  • बाण लगने के 58 दिन बाद हुई भीष्म की मृत्यु, 16 साल बाद हुए थे जिंदा
    +9और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Interesting Facts Of Bhishma Pitamah On Bhishm Jayanti 2018
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Trending

Top
×