Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Dharm Granth » Food Tips According To Bhavishay Puran.

खाना खाते समय न करें ये गलती, नहीं तो हो सकते हैं गरीब

हमारे ग्रंथों में दैनिक जीवन से जुड़े हर काम के लिए कुछ नियम बताए गए हैं। ऐसे ही कुछ नियम भविष्य पुराण में भी मिलते हैं।

जीवन मंत्र डेस्क | Last Modified - Dec 19, 2017, 05:00 PM IST

    • हमारे धर्म ग्रंथों में दैनिक जीवन से जुड़े हर काम के लिए कुछ नियम बताए गए हैं। ऐसे ही कुछ नियम भविष्य पुराण में भी मिलते हैं, जो भोजन से संबंधित हैं। आज हम आपको भोजन से जुड़े उन्हीं नियमों के बारे में बता रहे हैं।

      1. पूर्व की ओर मुख करके भोजन करने से आयु व पश्चिमी की ओर मुख करके भोजन करने से धन लाभ होता है।
      2. उत्तर की ओर मुख करके भोजन करने से सम्मान व दक्षिण की ओर मुख करके भोजन करने से प्रसिद्धि मिलती है।
      3. एक बार बैठकर पेट भर भोजन करना चाहिए। भोजन के बीच-बीच में उठकर जाने से धन का नाश हो जाता है।
      4. छोड़े हुए भोजन को दोबारा नहीं खाना चाहिए, इससे उम्र कम होती है। अधिक भोजन भी नहीं करना चाहिए।
      5. कभी किसी को झूठा भोजन खाने के लिए नहीं देना चाहिए और न ही किसी का झूठा भोजन खाना चाहिए।
      6. झूठे मुंह कहीं जाना नहीं चाहिए। यानी जब भी कुछ खाएं तो उसके बाद थोड़ा पानी जरूर पीना चाहिए।
      7. भोजन आनन्द पूर्वक करना चाहिए। भोजन में कुछ कमी रह गई हो तो भी उसकी बुराई नहीं करनी चाहिए।

    • खाना खाते समय न करें ये गलती, नहीं तो हो सकते हैं गरीब
      +1और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    Trending

    Top
    ×