Home » Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Chankaya Neeti » Chanakya Niti And Its Tips For Happy Life, How To Be Happy In Life

चाणक्य नीति- ऐसे लोगों को त्याग देती हैं महालक्ष्मी जो करते हैं ये 6 काम

यूटीलिटी डेस्क | Last Modified - Feb 10, 2018, 05:00 PM IST

चाणक्य ने नीतियों में सुखी और सफल जीवन के सूत्र बताए हैं।
  • चाणक्य नीति- ऐसे लोगों को त्याग देती हैं महालक्ष्मी जो करते हैं ये 6 काम

    आचार्य चाणक्य ने एक नीति में बताया है कि कैसे कामों से महालक्ष्मी नाराज हो जाती हैं। जो भी व्यक्ति लक्ष्मी कृपा चाहता है और धनवान बनना चाहता है, उसे ये काम नहीं करना चाहिए...

    आचार्य चाणक्य कहते हैं...

    कुचैलिनं दन्तमलोपधारिणं बह्वाशिनं निष्ठुरभाषिणं च।

    सूर्योदये वाऽस्तमिते शयानं विमुञ्चति श्रीर्यदि चक्रपाणि:।।

    इस श्लोक में आचार्य ने 6 ऐसे काम बताए हैं, जिनकी वजह से महालक्ष्मी की कृपा नहीं मिल पाती है।

    पहला काम है गंदे कपड़े पहनना

    जो लोग गंदे कपड़े पहनते हैं, साफ-सफाई से नहीं रहते, उन्हें महालक्ष्मी त्याग देती हैं। ऐसे लोगों को समाज में भी मान-सम्मान नहीं मिलता है और परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है।

    दूसरा काम है दांतों की सफाई न करना

    जो लागे नियमित रूप से दांतों की सफाई नहीं करते हैं, उन्हें भी महालक्ष्मी छोड़ देती हैं। अगर कोई व्यक्ति रोज दांत साफ नहीं करेगा तो उसके पास से दुर्गंध आने लगेगी। ऐसे लोगों से कोई भी बात करना पसंद नहीं करता है।

    तीसरा काम है खाने पर नियंत्रण न होना

    ऐसा व्यक्ति जो जरूरत से ज्यादा खाना खाता है, खाने के मामले में बिल्कुल भी नियंत्रण नहीं है, हर वक्त सिर्फ खाने के विषय में ही सोचता है, उसे भी महालक्ष्मी की प्रसन्नता नहीं मिलती है। भूख से ज्याद भोजन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। इसकी वजह से कई बीमारियां हो सकती हैं।

    चौथा काम है आलस्य

    अगर कोई व्यक्ति आलसी है, किसी काम के लिए उत्साह नहीं है तो ऐसे लोगों पर भी लक्ष्मी कृपा नहीं करती हैं। आलस्य की वजह से धन संबंधी कामों में सफलता नहीं मिलती है।

    पांचवां काम है कठोर वचन बोलना

    जो लोग कठोर भाषा का उपयोग करते हैं, अपनी बोली से दूसरों के मन को आहत करते हैं, उन्हें भी देवी लक्ष्मी की प्रसन्नता नहीं मिल पाती है।

    छठा काम है सूर्योदय और सूर्यास्त के समय सोना

    जो लोग इन दो समय पर अकारण ही सोते हैं तो उनसे भी महालक्ष्मी नाराज हो जाती हैं। सूर्योदय और सूर्यास्त का समय देवी-देवताओं की पूजा के लिए श्रेष्ठ है। इस समय सोना नहीं चाहिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Chanakya Niti And Its Tips For Happy Life, How To Be Happy In Life
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      Trending

      Top
      ×