Home » Jeevan Mantra »Gharelu Nuskhe »Cold » History Of Samosa, Samosa In India, Facts Of Samosa In Hindi

क्या आप जानते हैं भारत में समोसा कैसे आया

समोसा मैदा और आलू के मसाले से बनता है। भारत के अलग-अलग क्षेत्रों में कई तरह के समोसे मिलते हैं।

यूटीलिटी डेस्क | Last Modified - Dec 12, 2017, 06:14 PM IST

    • भारत में अधिकतर लोगों का सबसे पसंदीदा नाश्ता है समोसा। हर शहर में, गली-मोहल्ले से लेकर बड़ी-बड़ी होटलों में समोसा आसानी से मिल जाता है। छोटे हो या बड़े सभी को समोसा पसंद है, लेकिन ये बात बहुत कम लोग जानते हैं कि समोसा आया कहां से। बहुत कम लोग जानते हैं कि समोसा भारतीय नहीं है। यहां जानिए समोसों से जुड़ी खास बातें...

      समोसे का इतिहास है बहुत पुराना

      - हमारे पसंदीदा समोसे का इतिहास बहुत पुराना है। देश में इस व्यंजन की शुरूआत होने से पहले भारत के आसपास के देशों में समोसा बहुत पहले से प्रचलित था।

      - माना जाता है कि सबसे पहले समोसे बनाने का काम ईरान में हुआ था।

      - समोसे का आकार तिकोना कैसे और कब से हुआ, इस संबंध में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं है।

      फारसी शब्द से नाम मिला समोसा

      - कहते हैं फारसी भाषा के संबोसाग शब्द से समोसा शब्द बना है। इतिहासकारों के अनुसार मोहम्मद गजनवी के शाही दरबार में एक नमकीन डिश परोसी जाती थी और इस डिश को मीट कीमा और सुखा मेवा भरकर बनाया जाता था।

      - भारत में करीब 2000 साल पहले समोसा आया, जब आर्य भारत आए थे। मध्य एशिया की पहाड़ियों से गुजरते हुए समोसा भारत पहुंचा था।

      भारत आने के बाद समोसे में हुए कई बदलाव

      - भारत में आने के बाद समोसे में कई तरह के बदलाव हुए हैं। हम जो समोसा खाते हैं, उसमे कई तरह के स्वादिष्ट मसाले आलू के साथ मिलाकर भरे जाते हैं।

      - कहते हैं सोलहवीं सदी में जब पुर्तगाली भारत आए, तब वे आलू लेकर आए थे। उसी के बाद से समोसे में आलू भरा जाने लगा।
    • क्या आप जानते हैं भारत में समोसा कैसे आया
      +1और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    Trending

    Top
    ×