Home » Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » 13 June Amawasya Night, We Should Keep Deepak In Home, Deepak Ka Upay

चमत्कारी उपाय : आज रात सोने से पहले 7 में 3 जगहों पर जला दें दीपक

अमावस्या की रात में घर के आसपास दीपक जलाने से देवी-देवताओं की कृपा भी मिलती है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 13, 2018, 10:35 AM IST

  • चमत्कारी उपाय : आज रात सोने से पहले 7 में 3 जगहों पर जला दें दीपक, religion hindi news, rashifal news

    रिलिजन डेस्क।13 जून को ज्येष्ठ अधिक मास की अमावस्या है यानी आज रात ये दुर्लभ महीना खत्म हो जाएगा। अब 2021 में अधिक मास आएगा। इस कारण ज्योतिष के नजरिए से ये रात बहुत ही खास है। अमावस्या की रात में चंद्र नहीं दिखता है, इस वजह से रात में नकारात्मक शक्तियां ज्यादा सक्रिय रहती है। नकारात्मकता और दुर्भाग्य से बचने के लिए अमावस्या की रात घर के कुछ खास हिस्सों में दीपक जलाने की परंपरा है, ये चमत्कारी उपाय माना जाता है। रात में दीपक जलाने से देवी-देवताओं की कृपा भी मिलती है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए घर में कहां-कहां दीपक जलाना चाहिए। अगर यहां बताई जा रही 7 में से 3 जगहों पर भी दीपक जला देंगे तो शुभ फल मिल सकते हैं।


    पहली जगह
    अधिक मास की अमावस्या की रात घर के मंदिर में दीपक जलाएं। इस दीपक से सकारात्मकता बढ़ती है और देवी-देवताओं की कृपा मिल सकती है।
    दूसरी जगह
    पितर देवता की कृपा पाने के लिए रात में पूरा काम करने के बाद किचन में तेल का एक दीपक जलाएं। इस उपाय से पितृ दोष शांत होते हैं।
    तीसरी जगह
    बेडरूम में घी का दीपक जलाएं। इससे बेडरूम की नकारात्मकता खत्म हो सकती है।
    चौथी जगह
    अमावस्या पर सूर्यास्त के बाद घर के आंगन में तुलसी के पास दीपक जलाना चाहिए। ध्यान रखें तुसली के स्पर्श न करें। इस उपाय लक्ष्मी-विष्णु प्रसन्न होते हैं।
    पांचवीं जगह
    इस रात घर के मुख्य द्वार पर दोनों ओर दीपक जलाएं। ऐसा करने से अमावस्या पर फैली नकारात्मकता घर में प्रवेश नहीं कर पाएगी।
    छठी जगह
    अमावस्या की रात घर की छत पर भी दीपक जलाना चाहिए। छत पर रोशनी होगी तो घर के आसपास सकारात्मकता बनी रहेगी।
    सातवीं जगह
    रात के समय घर के आसपास मंदिर में या कहीं पीपल हो तो वहां दीपक जलाएं। इस उपाय से कुंडली के दोष दूर हो सकते हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending

Top
×