Home» Jeevan Mantra »Jyotish »Tantra Mantra» गोमती चक्र के अचूक प्रयोग और परेशानी खत्म

गोमती चक्र के अचूक प्रयोग और परेशानी खत्म

धर्म डेस्क. उज्जैन | Jun 17, 2011, 00:37 AM IST

  • गोमती चक्र के अचूक प्रयोग और परेशानी खत्म, tantra mantra religion hindi news, rashifal news

परेशानी जीवन का दूसरा नाम है। मनुष्य के जीवन में आए दिन परेशानियां आती रहती है। कुछ समस्याएं तुरंत हल हो जाती हैं तो कुछ लंबे समय तक कष्ट देती हैं। कुछ साधारण तांत्रिक उपाय कर इन परेशानियों से छुटकारा मिल सकता है। गोमती चक्र के कुछ साधारण तांत्रिक उपाय नीचे लिखे हैं इन्हें करने से अनेक परेशानियों से मुक्ति मिल सकती है। गोमती चक्र एक ऐसा पत्थर है तो गोमती नदी में मिलता है। इसका उपयोग तंत्र क्रियाओं में विशेष तौर पर किया जाता है।
उपाय
1- व्यापार वृद्धि के लिए दो गोमती चक्र लेकर उन्हें एक कपड़े में बांधकर ऊपर चौखट पर लटका दें और ग्राहक उसके नीचे से निकले तो निश्चय ही व्यापार में वृद्धि होती है।
२- पुत्र प्राप्ति के लिए पांच गोमती चक्र लेकर किसी नदी या तालाब में हिलि हिलि मिलि मिलि चिलि चिलि हुक पांच बोलकर विसर्जित करें, पुत्र प्राप्ति की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।
3- पेट संबंधी रोग होने पर 10 गोमती चक्र लेकर रात को पानी में डाल दें तथा सुबह उस पानी को पी लें। इससे पेट संबंध के विभिन्न रोग दूर हो जाते हैं।
4- यदि बार-बार गर्भ गिर रहा हो तो दो गोमती चक्र लाल कपड़े में बांधकर कमर में बांध दें तो गर्भ गिरना बंद हो जाता है।
5- यदि कोई कचहरी जाते समय घर के बाहर गोमती चक्र रखकर उस पर दाहिना पांव रखकर जाए तो उस दिन कोर्ट-कचहरी में सफलता प्राप्त होती है।
6- यदि शत्रु बढ़ गए हों तो जितने अक्षर का शत्रु का नाम है उतने गोमती चक्र लेकर उस पर शत्रु का नाम लिखकर उन्हें जमीन में गाड़ दें तो शत्रु परास्त हो जाएंगे।


Related Articles:

संडे फंडा: इस उपाय से मिलेगी शांति व पैसा
कार्य में सफलता चाहें तो करें यह उपाय
इस टोटके से नहीं आएगा आलस, बढ़ेगी कार्यक्षमता
जब सताए धन की कमी, करें यह टोटके
इस उपाय से बढ़ेगा व्यापार और होगी बरकत

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: गोमती चक्र के अचूक प्रयोग और परेशानी खत्म
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Next Article

    Recommended

        PrevNext