» Navratri Is The Time To Rekindle The Power Of Self

स्वयं की शक्ति जागृत करने का समय है नवरात्र

धर्म डेस्क. उज्जैन | Oct 12, 2010, 19:07 PM IST

स्वयं की शक्ति जागृत करने का समय है नवरात्र

images_22नवरात्र शक्ति की उपासना करने के लिए सबसे बेहतर समय होता है। इस दौरान लोग कई प्रकार की साधनाएं करते हैं। मूलत: नवरात्र शरीर में स्थित विभिन्न चक्रों (शक्तियों) को जाग्रत करने का समय माना जाता है।
नवरात्र में पहले दिन की शक्ति है शैलपुत्री। इनकी स्तुति से मूलाधार चक्र में बीज रूप में पड़ी चेतना शक्ति में हलचल होती है।
द्वितीय दिन की शक्ति है ब्रह्मïचारिणी, जिसके जागरण से मूलाधार चक्र की ब्रह्मïशक्ति ऊपर की ओर उठती है।
तीसरे दिन की शक्ति है चंद्रघंटा, इनका स्मरण करने से साधक को घंटों की टंकार की ध्वनि अनुभूत होती है और इसी के साथ शक्ति का स्वाधिष्ठïन चक्र की ओर जाती है।
चौथे दिन की शक्ति कूष्माण्डा है। इनकी स्तुति से जागरण से मणिपूरक चक्र में स्पंदन होता है।
पांचवें दिन की शक्ति स्कन्दमाता है, जिसके जागरण से मणिपूरक चक्र जो कि नाभि में स्थित है, में शक्ति का उद्भव होता है।
छठवें दिन की शक्ति कात्यायिनी है। इनके जागरण से शरीर में स्थित सभी बुराइयों का विनाश होता है।
सातवें दिन की शक्ति है कालरात्रि। यह माता का विकराल स्वरूप है। इनकी आराधना से से साधक प्राणों को हृदयचक्र में पुष्टï करता है एवं शक्ति का प्रवेश अनाहत चक्र में होता है, जो वक्ष में स्थित है।
आठवें दिन की शक्ति महागौरी है। इनके जागरण से साधक संसार के सभी बुराइयों से मुक्त होकर विशुद्धचक्र में प्रवेश करता है, जो कि साधक के गले में स्थित है।
नवें दिन की शक्ति सिद्धिदात्री है अर्थात समस्त सिद्धियों व मोक्ष को देने वाली। इसकी जागृति से साधक मूलाधार चक्र से बीज रूप में पड़ी आत्मशक्ति को समस्त चक्रों का भेदन करते हुए आज्ञा चक्र में स्थित करता है, जिससे वह कई आलौकिक शक्तियों का स्वामी बन जाता है।

Related Articles:

मां अंबिका शक्तिपीठ- जहां श्रीकृष्ण का मुंडन हुआ
इसलिए माता का नाम पड़ा शाकम्बरी
मन का भय दूर करें, मां कात्यायनी के मंत्र से
ऐसे करें आरती तो मां होंगी प्रसन्न....
ऐसे प्रकट हुईं माता लक्ष्मी
बंगाल का प्रमुख उत्सव है नवरात्र
क्यों जलाते हैं नवरात्र में अखंड ज्योत?
सभी रोग-शोक दूर करती हैं मां कुष्मांडा
मां कुष्मांडा से सिद्धि प्राप्ति के लिए ध्यान मंत्र



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Navratri is the time to rekindle the power of self
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Trending Now

    Top