Home» Jeevan Mantra »Jyotish »Rashi Aur Nidaan » Worship Method For Hanumanji

शनिवार को करें ये प्राचीन उपाय, दूर हो सकती है दरिद्रता

जीवन मंत्र डेस्क | Jun 19, 2015, 06:00 IST

शनि एक क्रूर ग्रह है और इसे न्यायाधीश का पद भी प्राप्त है। शनि कुंडली के अन्य शुभ ग्रहों के अच्छे असर को भी प्रभावित कर सकता है। ज्योतिष के अनुसार शनिदेव को भले ही क्रूर ग्रह माना जाता है, लेकिन ये ग्रह अच्छे फल भी प्रदान करता है। शनि सबसे धीरे चलने वाला ग्रह है। शनि ही एकमात्र ऐसा ग्रह है जो एक राशि में करीब ढाई वर्ष तक रुकता है। इसी वजह से शनिदेव को इन्हें शनैश्चर भी कहा जाता है, क्योंकि ये श्नै: श्नै: चलते हैं। शनिदेव की गति इतनी धीमी क्यों है? इस संबंध में माना जाता है कि वे लंगड़े हैं। इसी कारण वे धीरे-धीरे चलते हैं।
हनुमानजी के भक्तों को शनि परेशान नहीं करते,ऐसा क्यों...
भगवान शनि को तेल चढ़ाया जाता है। इस संबंध में कथा प्रचलित है कि एक बार हनुमानजी इनका युद्ध हुआ और युद्ध में शनिदेव को हार का सामना करना पड़ा। तभी हनुमानजी ने शनि के दर्द को कम करने के लिए तेल प्रदान किया। इस तेल को लगाने से शनिदेव का दर्द समाप्त हो गया। तभी से शनिदेव को तेल अर्पित किया जाने लगा। हनुमानजी के कारण शनिदेव के दर्द का अंत हुआ था और इसी वजह से शनिदेव हनुमानजी के भक्तों पर भी टेढ़ी नजर नहीं डालते हैं। शनि दोषों से मुक्ति के लिए हर शनिवार हनुमानजी की पूजा करना श्रेष्ठ उपाय है। इस उपाय से धन संबंधी परेशानियां भी दूर हो सकती हैं।
आगे की स्लाइड्स पर जानिए हनुमानजी के कुछ उपाय जो शनिवार को किए जा सकते हैं...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: worship method for hanumanji
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      Trending Now

      पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

      दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

      * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
      Top