मानो या न मानो, इन 5 रहस्यों का जीवन पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है

जीवनमंत्र डेस्क | Mar 20, 2017, 02:22 IST

hinduism beliefs and values

2. पूर्णिमा और अमावस्या
मान्यता अनुसार कुछ खास दिनों में विशेष काम करने से बचना चाहिए। साथ ही, इन दिनों अपने व्यवहार को भी संयमित रखना चाहिए। जानकार लोग तो ये कहते हैं कि तेरस, चौदस, पूर्णिमा, अमावस्या, प्रतिपदा, ग्यारस, चंद्रग्रहण, सूर्यग्रहण यहां बताए गए 7 दिन पवित्र बने रहने में ही भलाई है, क्योंकि इन दिनों में देव और असुर सक्रिय रहते हैं। ज्योतिष ग्रंथ मुर्हूत चिंतामणि और भविष्य पुराण के अनुसार अमावस्या को हो सके तो यात्रा टालना चाहिए। किसी भी प्रकार का व्यसन नहीं करना चाहिए। इस दिन शराब, मांस, संभोग आदि कार्य से दूर रहें।पूर्णिमा की रात मन ज्यादा बेचैन रहता है और नींद कम ही आती है। कमजोर दिमाग वाले लोगों के मन में आत्महत्या या हत्या करने के विचार बढ़ जाते हैं। हालांकि पूर्णिमा की रात में चांद की रोशनी स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होती है। पूर्णिमा की रात में कुछ देर चांदनी में बैठने से मन को शांति मिलती है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: Basics of Hinduism
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      Trending Now

      पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

      दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

      * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
      Top