Home» Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Chankaya Neeti» Chanakya Niti About Happy Life & Tips

चाणक्य नीति- ये 3 बातें होना पुरुषों के लिए अभाग्य की निशानी है

जीवन मंत्र डेस्क | Mar 14, 2017, 10:36 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
भाग्य और अभाग्य की बात अक्सर होती रहती है। भाग्य यानी सुख-समृद्धि और श्रेष्ठ जीवन। अभाग्य यानी दुख और परेशानियां। किसी व्यक्ति के साथ भाग्य है या अभाग्य, ये वर्तमान परिस्थितियों को देखकर समझा जा सकता है। आचार्य चाणक्य ने तीन परिस्थितियां ऐसी बताई हैं जो किसी भी पुरुष के अभाग्य की ओर इशारा करती हैं। यहां जानिए ये तीन परिस्थितियां कौन-कौन सी हैं...
चाणक्य नीति का श्लोक
वृद्धकाले मृता भार्या बन्धुहस्ते गतं धनम्।
भोजनं च पराधीनं त्रय: पुंसां विडम्बना:।।
आगे की स्लाइड्स में जानिए इस श्लोक का पूरा अर्थ...
तस्वीरों का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: chanakya niti about happy life & tips
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      Trending Now

      पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

      दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

      * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
      Top