Home» Jeevan Mantra »Jeene Ki Rah »Granth »Other Granth » Granth: Rare Information: Know-How Many Verses In The Puranas

दुर्लभ जानकारी: जानिए, किस पुराण में कितने श्लोक हैं

धर्मडेस्क. उज्जैन | Jan 03, 2013, 13:33 PM IST

दुर्लभ जानकारी: जानिए, किस पुराण में कितने श्लोक हैं
प्राचीनकाल से ही पुराण मनुष्यों का मार्गदर्शन करते रहे हैं। पुराण मनुष्य को धर्म एवं नीति के अनुसार जीवन बिताने की शिक्षा देते हैं । पुराण मनुष्य के किस कर्म का कैसा फल मिलता है इस पर प्रकाश डालते हैं। पुराण मूल रूप से वेदों का विस्तार है। कुल अठारह पुराणों को मुख्य माना गया है
ब्रह्मपुराण: 14000
पद्मपुराण: 55000
विष्णुपुराण: 23000
शिवपुराण: 24000
श्रीमद्भावतपुराण: 18000
नारदपुराण: 25000
मार्कण्डेयपुराण: 9000
अग्निपुराण: 15000
भविष्यपुराण: 14500
ब्रह्मवैवर्तपुराण: 18000
लिंगपुराण: 11000
वाराहपुराण: 24000
स्कन्धपुराण: 81100
वामनपुराण: 10000
कूर्मपुराण: 17000
मत्सयपुराण: 14000
गरुड़पुराण: 19000
ब्रह्माण्डपुराण: 12000
इस प्रकार सारे पुराणों के श्लोकों की कुल संख्या लगभग 403600 (चार लाख तीन हजार छ: सौ) है। इसके अलावा रामायण में लगभग 24000 एवं महाभारत में लगभग 110000 श्लोक हैं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: granth: Rare Information: Know-How many verses in the Puranas
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Comment Now

    Most Commented

        Trending Now

        Top