Home» Jeevan Mantra »Dharm »Upasana» Bath With Chant This Surya Mantra On Sankranti For Progrees

PIX: संक्रांति पर यह सूर्य मंत्र बोल नहाएं, जबर्दस्त तरक्की होगी

धर्म डेस्क, उज्जैन | Jan 10, 2013, 01:00 AM IST

हिन्दू धर्म परंपराओं में सूर्यदेव की उपासना का यश, प्रतिष्ठा, सौंदर्य और निरोगी जीवन की कामना पूरी करने के लिए विशेष महत्व बताया गया है। शास्त्रों में सूर्य उपासना की मंगलकारी व अचूक घडिय़ों में एक मकर संक्रांति के लिए यहां बताए जा रहे विशेष मंत्र का ध्यान स्नान, सूर्योदय होने पर अर्घ्य देकर या नवग्रह मंदिर में सूर्य पूजा के दौरान करना तरक्की और खुशहाली की हर चाहत को पूरा करने वाला माना गया है।

अगली तस्वीर पर पहुंच जानिए यह आसान सूर्य पूजा मंत्र उपाय -


- सूर्य देव की गंध, अक्षत, फूल और तिल-गुड़ का नैवेद्य अर्पित कर सफलता की कामना से बोलें व सूर्य आरती करें -

ॐ नमो भगवते श्री सूर्यायाक्षितेजसे नम:।

ॐ खेचराय नम:। ॐ महासेनाय नम:।

ॐ तमसे नम:। ॐ रजसे नम:। ॐ सत्वाय नम:।

ॐ असतो मा सद्गमय। तमसो मा ज्योतिर्गमय। मृत्योर्मामृतं गमय।

हंसो भगवाञ्छुचिरूप: अप्रतिरूप:।

विश्वरूपं घृणिनं जातवेदसं हिरण्मयं ज्योतीरूपं तपन्तम्।

सहस्त्ररश्मि: शतधा वर्तमान: पुर: प्रजानामुदत्येष सूर्य:।

ॐ नमो भगवते श्रीसूर्यायादित्याक्षितेजसे हो वाहिनि वाहिनि स्वाहेति।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: bath with chant this surya mantra on Sankranti for progrees
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Next Article

    Recommended

        PrevNext