Home» Jeevan Mantra »Dharm »Pooja Package» Ups_be Wealthy By Chant This Lord Shiv Mantra

दारिद्रयदहन शिवस्तोत्र : धनकुबेर बना देते हैं ये अद्भुत शिव मंत्र

धर्म डेस्क. उज्जैन | Dec 13, 2012, 13:19 PM IST

शास्त्रों में शिव उपासना से मिलने वाले फलों का सरल शब्दों में निचोड़ यही सामने आता है कि शिव ही सांसारिक सुखों का आधार हैं। क्योंकि न केवल शिव का स्वरूप व उपासना के तरीके सरल है, बल्कि आसानी से तन, मन व धन कामनाओं में आने वाली बाधाएं भी दूर करने वाले हैं।
जीवन से जुड़ी ऐसी ही इच्छाओं में एक है - दौलतमंद और ऐश्वर्य भरा जीवन। हर इंसान के मन में धन संपन्नता और उससे भौतिक सुखों को बंटोरने का भाव आता है, जिसे पूरा करने के लिए वह कर्म और धार्मिक उपाय चुनता है।
ऐसे ही उपायों में हर हिन्दू पंचांग की चतुर्दशी तिथि पर शिव पूजा में शिव की विशेष मंत्र स्तुति दु:ख, दरिद्रता और धन के अभाव को दूर कर धन, संतान, निरोगी शरीर द्वारा वैभवशाली और संपन्न बना देती है। जानिए यह शिव मंत्र स्तुति, जो दारिद्रयदहन शिवस्तोत्रम्‌ के नाम से भी प्रसिद्ध है -
शिवलिंग को जल, दूध, बिल्वपत्र और सफेद आंकड़ा समर्पित कर इस मंत्र स्तुति का श्रद्धा से पाठ करें -

विश्वेश्वराय नरकार्णवतारणाय

कर्णामृताय शशिशेखरधारणाय।

कर्पूरकांतिधवलाय जटाधराय

दारिद्रयदुःखदहनाय नमः शिवाय ॥1॥

गौरीप्रियाय रजनीशकलाधराय

कालान्तकाय भुजगाधिपकङ्कणाय।

गङ्गाधराय गजराजविमर्दनाय ॥2॥

भक्तिप्रियाय भवरोगभयापहाय

उग्राय दुर्गभवसागरतारणाय।

ज्योतिर्मयाय गुणनामसुनृत्यकाय ॥3॥

चर्माम्बराय शवभस्मविलेपनाय

भालेक्षणाय मणिकुण्डलमण्डिताय।

मञ्जीरपादयुगलाय जटाधराय ॥4॥

पञ्चाननाय फणिराजविभूषणाय

हेमांशुकाय भुवनत्रयमण्डिताय।

आनंतभूमिवरदाय तमोमयाय ॥5॥

भानुप्रियाय भवसागरतारणाय

कालान्तकाय कमलासनपूजिताय।

नेत्रत्रयाय शुभलक्षणलक्षिताय ॥6॥

रामप्रियाय रघुनाथवरप्रदाय

नागप्रियाय नरकार्णवतारणाय।

पुण्येषु पुण्यभरिताय सुरार्चिताय ॥7॥

मुक्तेश्वराय फलदाय गणेश्वराय

गीतप्रियाय वृषभेश्वरवाहनाय।

मातङग्‌चर्मवसनाय महेश्वराय ॥8॥

वसिष्ठेन कृतं स्तोत्रं सर्वरोगनिवारणम्‌।

सर्वसम्पत्करं शीघ्रं पुत्रपौत्रादिवर्धनम्‌।

त्रिसंध्यं यः पठेन्नित्यं स हि स्वर्गमवाप्नुयात्‌ ॥9॥

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: ups_be wealthy by chant this lord shiv mantra
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Next Article

    Recommended

        PrevNext