Home» Jeevan Mantra »Dharm »Gyan » How Much Auspicious Is Donation On Makar Sankranti?

PIX: इतना ज्यादा शुभ होता है मकर संक्रांति का दान! जानकर शुरू कर देंगे तैयारी

धर्म डेस्क, उज्जैन | Jan 09, 2013, 17:22 PM IST

til

ज़िंदगी में सही समय, सही मकसद से किया गया अच्छा काम ही वास्तविक रूप से धर्म पालन है। क्योंकि ऐसे काम ही हमेशा सुख-शांति और यश की कामना को पूरी करने वाले होते हैं। शास्त्रों के मुताबिक दैहिक, मानसिक और आत्मिक सुख देने वाला ऐसा ही कर्म है-दान।
व्यावहारिक तौर पर दान में देने का भाव ही अहं व स्वार्थ जैसी बुराइयों को घटाता है। इसलिए दान के लिए त्याग, निस्वार्थ और विनम्रता के भाव ही सार्थक व सुख देने वाले माने गए है। यही वजह है कि जन्म से लेकर मृत्यु कर्मों तक में धार्मिक नजरिए से दान परंपराएं जुड़ी है। चाहे वह पशु दान हो या कन्यादान।

इसी कड़ी में शिवपुराण में लिखा है कि जिसे जिस वस्तु की जरूरत हो, उसे बिना मांगे ही दे दी जाए तो ऐसा दान बहुत फलीभूत होता है। ऐसे दान के लिए सूर्य संक्रांति का योग बड़ा ही शुभ माना जाता है। इन खास दिनों पर किया दान धर्म दीनता व दु:खों से बचाने वाला बताया गया है। इसी कड़ी में जानिए मकर संक्रांति पर दान करना कितना शुभ होता है -

दान के लिए वैसे तो हिन्दू पंचांग केसभीबारह माह शुभ है, लेकिन इनमें भी आने वाली विशेष घडिय़ां बहुत शुभ मानी गई है। जो ये हैं -


- किसी भी माह की सूर्य संक्रांति के दिन किया गया दान अन्य शुभ दिनों की तुलना में दस गुना पुण्य देता है।

- सूर्य संक्रांति से भी दस गुना पुण्यदायी सूर्य के विषुव योग यानी सूर्य की विषुवत् रेखा पर स्थिति, जो हिन्दू पंचांग के मुताबिक चैत्र नवमी और आश्विन माह की नवमी पर बनता है।

- विषुव योग से दस गुना फल कर्क संक्रांति यानी दक्षिणायन शुरू होने के दिन।

- कर्क संक्रांति से भी दस गुना मकर संक्रांति यानी उत्तरायन शुरू होने के दिन।

- इनसे भी अधिक पुण्य चन्द्रग्रहण और सबसे श्रेष्ठ समय सूर्यग्रहण के दौरान व बाद माना गया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: How much auspicious is donation on Makar sankranti?
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Comment Now

    Most Commented

        Trending Now

        Top