Home» Jeevan Mantra »Aisha-Kyun » Jyts Parampara Know The Special Incident About Ravan And Shanidev

रावण और शनिदेव से जुड़ा ये प्रसंग बहुत कम लोग जानते हैं

धर्म डेस्क. उज्जैन | Jan 08, 2013, 10:44 AM IST

शनि और रावण से जुड़ा प्रसंग इस प्रकार है... उस समय रावण और मंदोदरी के पुत्र मेघनाद का जन्म होने वाला था। रावण चाहता था कि उसका पुत्र अजेय हो जिसे कोई भी देवी-देवता हरा न सके, रावण चाहता था कि उसका पुत्र दीर्घायु हो, उसकी मृत्यु हजारों वर्षों बाद ही हो। रावण चाहता था कि उसका पुत्र परम तेजस्वी, पराक्रमी, कुशल यौद्धा, ज्ञानी हो। रावण एक प्रकाण्ड पंडित और ज्योतिष का जानकार था इसीकारण मेघनाद के जन्म के समय उसने ज्योतिष के अनुसार सभी ग्रहों और नक्षत्रों को ऐसी स्थिति में बने रहने का आदेश दिया कि उसके पुत्र में वह सभी गुण आ जाए जो वह चाहता है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड कीजिए Dainik Bhaskar का मोबाइल ऐप
Web Title: jyts parampara know the special incident about ravan and shanidev
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Trending Now

    Top