जीवन मंत्र
Home >> Jeevan Mantra >> Jyotish >> Vastu
  • भाग्यशाली होता है तीन टांगों वाला मेंढक, जानिए फेंगशुई के 10 उपाय
    उज्जैन। फेंगशुई एक चाइनीज शब्द है, जिसका शाब्दिक अर्थ है वायु और जल। घरों का निर्माण किस प्रकार करें, कैसे घरों को सुंदर बनाएं, घरों में क्या-क्या सामान होना चाहिए? इन सभी बातों की जानकारी हमें फेंगशुई में आसानी से मिलती है। फेंगशुई मूल रूप से चीन का वास्तु शास्त्र है। यह भारतीय वास्तु शास्त्र से काफी मिलता-जुलता है। हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार वास्तु शास्त्र का उपयोग प्राचीन काल से ही किया जाता रहा है। आप भी फेंगशुई टिप्स अपना कर घर के वास्तु दोषों को आसानी से दूर कर सकते हैं। ये हैं फेंगशुई...
    November 24, 02:05 PM
  • बांसुरी और झाडू से भी दूर हो सकते हैं वास्तु दोष और आपकी समस्याएं
    उज्जैन। जीवन में समस्याओं का आना-जाना लगा रहता है। इनमें से कुछ समस्याएं घर के वास्तु दोषों के कारण भी होती है। इन वास्तु दोषों को बहुत छोटे-छोटे उपाय कर दूर किया जा सकता है। ये उपाय न तो ज्यादा मंहगे हैं और न हीं इन्हें करने के लिए घर में तोड़-फोड़ की आवश्यकता होती है। आज हम आपको ऐसे ही छोटे-छोटे वास्तु उपायों के बारे में बता रहे हैं। 1- वास्तु के अनुसार घर में बांसुरी रखना बहुत शुभ माना गया है। कृष्ण की बांसुरी सम्मोहन, खुशी और आकर्षण का प्रतीक मानी गई है। मान्यता है कि बांसुरी में से गुजर कर...
    November 19, 01:38 PM
  • वास्तु टिप्स: जानिए बेडरूम और पलंग से जुड़ी ये 6 छोटी-छोटी बातें
    उज्जैन। बेडरूम हमारे घर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है, क्योंकि यहीं हम आराम करते हैं और अपने जीवन से जुड़े निजी अनुभव शेयर करते हैं। हमारे जीवन का एक बहुत बड़ा समय बेडरूम में ही सोते हुए गुजरता है। कई बार बेडरूम या पलंग के वास्तु विपरीत होने के कारण इसका असर हमारी कार्यक्षमता पर पड़ता है। यदि हमें भरपूर नींद लेनी है तो हम बेडरूम की महत्ता को नकार नहीं कर सकते। वास्तु के अनुसार बेडरूम का निर्माण करवाते समय तथा पलंग किस दिशा में रखें, इन बातों का हमें विशेष ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि आपका...
    November 18, 10:33 AM
  • किराए के घर में भी करेंगे ये उपाय तो बढ़ सकती है आपकी कमाई
    उज्जैन। यदि आप किराए के घर में रहते हैं और आपके जीवन में कई परेशानियां चल रही हैं तो यहां वास्तु के कुछ बताए जा रहे हैं। इन उपायों से वास्तु दोष का प्रभाव कम होता है और घर में सकारात्मक वातावरण निर्मित होता है। वास्तु के उपायों से धन संबंधी मामलों में भी लाभ मिल सकता है। कभी-कभी किसी घर के पुराने दोषों के कारण वहां रहने वाले लोगों के जीवन में समस्याएं बढ़ जाती हैं। किराए के घर में रहने वाले मकान मालिक की मर्जी के बिना घर में कोई बदलाव भी नहीं करवा सकते हैं। ऐसे में किराएदार को वास्तु दोष के कारण...
    November 14, 12:27 PM
  • किस दिशा में है आपके घर का मेन गेट? जानिए सावधानियां व असर
    उज्जैन। भवन या अन्य कोई निर्माण करते समय जितने संभव हो उतने वास्तु सिद्धांतों का पालन अवश्य करना चाहिए। किसी भी भूखण्ड पर निर्माण करते समय उसके शुभ-अशुभ फलों पर विचार करना जरूरी होता है। भवन, कारखाना या फिर दुकान आदि के शुभ होने में मुख्य द्वार की भूमिका विशेष होती है। वास्तु शास्त्र के अनुसार चारों दिशाओं में भवन के मुख्य द्वार हो सकते हैं। सबसे पहले हम जानते हैं पूर्वमुखी भवन का निर्माण करवाते समय किन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए तथा उनके क्या शुभ-अशुभ फल होते हैं- 1- यदि भवन का मुख्य...
    November 9, 01:00 AM
  • बिजनेस में तरक्की और आवाज को मजबूती दे सकता है घर में यह बदलाव
    उज्जैन। घर के पश्चिमी भाग का संबंध इंसान की आवाज और साझेदारी के कार्यों से जुड़े आर्थिक लाभों से होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के पश्चिमी हिस्से को आकाश तत्व भी कहा जाता है। घर में पंच तत्वों जल, वायु, अग्नि, पृथ्वी और आकाश तत्व का सही संतुलन वो सभी सुख दे सकता है जो कि घर से हम चाहते हैं। घर की अलग-अलग दिशाओं में इन पांचों तत्वों की उपस्थिति होती है। तत्व- घर में निवास स्थान का क्षेत्र- रंग -आकार जल- घर का उत्तरी भाग- नीला- तरंगाकार वायु- घर का पूर्वी भाग- हरा- आयताकार अग्नि- घर का...
    November 7, 04:51 PM
  • जिंदगी के बोझ हल्के लगने लगेंगे यदि घर के बीच में होगा खुला भाग
    उज्जैन। घर का सेंटर यानी बीच वाला भाग खुला होना पृथ्वी तत्व को संतुलित बनाए रखता है। वास्तु के अनुसार पृथ्वी तत्व पंच तत्वों में से एक तत्व है जो कि घर के कोने और सेंटर से जुड़ा होता है। पृथ्वी तत्व का संतुलन होने से जिम्मेदारियां बोझ की तरह नहीं लगती है। घर में रहने वाले सभी सदस्य एक सुख-चैन की सामान्य जिंदगी बसर करते हैं। आइए जानते हैं पृथ्वी तत्व का संतुलन सुख-चैन कैसे बढ़ाता है... एक स्वस्थ शरीर में पंच तत्व जल, वायु, अग्नि, पृथ्वी और आकाश संतुलित होते है। एक सुखी घर में भी पंच तत्व जल, वायु,...
    November 6, 06:05 PM
  • सम्मान और समृद्धि बढ़ाने के लिए करें घर की दक्षिण दिशा में यह बदलाव
    उज्जैन। घर की दक्षिण दिशा सम्मान व समृद्धि से जुड़ी हुई है। वास्तु के अनुरुप एक घर पांच तत्वों जल, वायु, अग्नि, पृथ्वी और आकाश से बनता है। अग्नि तत्व का वास घर के दक्षिणी भाग में होता है। घर में अग्नि तत्व के असंतुलन होने के प्रभाव - अग्नि तत्व के असंतुलित हो जाने से बिना वजह अपयश मिल सकता है। - समाज में अपनी पहचान बनाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। - अग्नि तत्व का संबंध सुरक्षा से है। इसके असंतुलन से चोरी एक्सीडेंट आदि समस्याएं होने की संभावनाएं बढ़ सकती हैं। - उत्साह की कमी से...
    November 6, 10:44 AM
  • महीने में एक बार बाथरूम में रखें एक कटोरी नमक, बढ़ सकती है इनकम
    उज्जैन।क्या आप जानते हैं घर के कमरे, हॉल, रसोई के साथ ही लेट-बाथ भी आपकी आर्थिक स्थिति पर असर डालते हैं। वास्तुशास्त्र के अनुसार घर की स्थिति और घर में रखी हर वस्तु का अलग-अलग प्रभाव होता है, जिसका असर वहां रहने वाले लोगों पर पड़ता है। अत: घर में वास्तु के अनुसार बताए गए उपाय अवश्य अपनाना चाहिए। यहां जानिए बाथरूम से जुड़े वास्तु के कुछ खास उपाय, जो आपकी आर्थिक स्थिति को मजबूत बना सकते हैं और घर का वातावरण सकारात्मक बना सकते हैं... बाथरूम में रखें खड़ा नमक यदि आप अपने बाथरूम में एक कटोरी में खड़ा...
    November 5, 01:57 PM
  • घर की इस दिशा में न करें अग्नि का उपयोग, छूट सकते हैं सुनहरे अवसर
    उज्जैन। पंचतत्वों से मिलकर हमारा शरीर बना है और पंचतत्वों से मिलकर ही घर भी बनता है। जल, वायु, अग्नि, पृथ्वी और आकाश ये पांच तत्व हैं, जिनका सीधा असर हम पर और हमारे घर पर होता है। घर में इन पांचों तत्व के संतुलन से पॉजीटिव एनर्जी का संतुलन बना रहता है। घर की अलग-अलग दिशाओं में इन पांचों तत्वों की उपस्थिति होती है। यहां जानिए इन पांच तत्वों में से प्रथम तत्व जल को घर में कैसे संतुलित किया जा सकता है... जलतत्व - घर के उत्तरी भाग में जल तत्व का प्रभाव रहता है। जल का स्वभाव है कि यह बहता है और आगे बढ़ता...
    November 5, 01:42 PM
  • घर में हवा का रुख बदलने से कम हो सकता है गुस्सा भी
    उज्जैन। वास्तु के अनुसार घर की पूर्व दिशा में वायु तत्व का निवास माना गया है। वायु तत्व की ऊर्जा जीवन में ताजगी, आनंद, खुशियां लाती है। पंचतत्वों से मिलकर ही शरीर बना है। पंचतत्वों से मिलकर ही घर बनता है। जल, वायु, अग्नि, पृथ्वी और आकाश ये पांच तत्व हैं, जिनका असर घर पर देखा जा सकता हैं। घर में इन पांचो तत्व के संतुलन से पॉजिटिव एनर्जी का संतुलन बना रहता है। घर की अलग-अलग दिशाओं में इन पांचो तत्वों की उपस्थिति होती है। तत्व- घर में निवास स्थान का क्षेत्र- रंग - आकार जल- घर का उत्तरी भाग - नीला-...
    November 5, 12:28 PM
  • फैक्टरी, कारखाना व होटल के लिए उपयोगी हैं ये वास्तु टिप्स
    उज्जैन। वास्तु शास्त्र न सिर्फ घर के लिए बल्कि व्यवसायिक स्थानों जैसे- फैक्टरी, कारखाना, होटल आदि के लिए भी बहुत उपयोगी है। यदि फैक्टरी, कारखाने आदि वास्तु सम्मत हो सफलता मिलने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसा न होने पर फैक्टरी, कारखाने आदि में नुकसान भी हो सकता है। आज हम आपको फैक्टरी, कारखानों, होटल व गैराज से संबंधित वास्तु टिप्स बता रहे हैं। ये वास्तु टिप्स आपके लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकते हैं। ये वास्तु टिप्स इस प्रकार हैं- फैक्टरी के लिए वास्तु टिप्स 1- फैक्टरी का उत्तरी-पूर्वी क्षेत्र...
    October 31, 01:00 AM
विज्ञापन
 

बड़ी खबरें

 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें