जीवन मंत्र
Home >> Jeevan Mantra >> Jyotish >> Jyotish Nidaan
  • हनुमानजी को चढ़ाएंगे ये सामान्य चीजें तो दूर होता है शनि का बुरा असर
    उज्जैन।अब आने वाले समय में शनि वृश्चिक में राशि में रहेगा। शनि एक राशि में करीब ढाई वर्ष रुकता है यानी अगले ढाई साल शनि इसी राशि में रहेगा। इस कारण कई लोगों को शनि के बुरे असर का भी सामना करना पड़ सकता है। जिन लोगों के लिए शनि अशुभ फल देने वाला है, उन्हें हनुमानजी की पूजा करनी चाहिए। जो लोग हर मंगलवार और शनिवार को हनुमानजी की पूजा करते हैं, हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं, उन्हें के बुरे असर से मुक्ति मिल जाती है। ऐसा नियमित रूप से करते रहना चाहिए। यहां जानिए हनुमानजी की कृपा पाने के लिए कुछ खास उपाय......
    12:57 PM
  • जब आपके साथ होने लगे ऐसी बातें तो समझ लें शनि हो गया है अशुभ
    उज्जैन। अब शनि वृश्चिक राशि में प्रवेश कर रहा है और इस कारण लोगों के जीवन में भी परिवर्तन होने की संभावनाएं बन रही हैं। जिन लोगों के लिए शनि अशुभ हो जाएगा, उन्हें दैनिक जीवन में ही कई प्रकार के संकेत मिलने लगते हैं। यहां जानिए शनि के अशुभ होने पर जीवन में कैसी बातें होने लगती हैं... - शनि विपरीत होने पर आंखें कमजोर हो जाती है, कमर दर्द शुरू हो जाता है या कमर झुक जाती है। - यदि किसी विद्यार्थी के लिए शनि अशुभ फल देने वाला हो गया है तो पढ़ाई में उसका मन नहीं लगता और शिक्षा के क्षेत्र में कोई उपलब्धि...
    11:10 AM
  • अब से ढाई साल के लिए बदला शनि का असर, आपका राशिफल और उपाय
    उज्जैन। रविवार, 2 नवंबर 2014 की शाम 6.45 बजे शनि राशि बदलकर वृश्चिक राशि मे चला जाएगा, लेकिन वृश्चिक के शनि का असर प्रारंभ हो गया है। वृश्चिक राशि का स्वामी मंगल होता है, जो शनि का परम शत्रु है एवं शनि मंगल का परम शत्रु है। अगले 27 महीनों तक शनि वृश्चिक राशि में रहेगा एवं सभी 12 राशियों पर असर बनाए रखेगा। अब तक शनि तुला राशि में था और वृश्चिक में आने से इसका असर करीब ढाई साल के लिए बदल जाएगा। शनि के राशि परिवर्तन की तिथि में पंचांग भेद भी हैं। कुछ पंचांग के अनुसार शनि 1 नवंबर को ही राशि बदल रहा है। उज्जैन के...
    11:09 AM
  • वास्तु- जानिए घर में पैसा किस दिशा में रखना होता है शुभ
    उज्जैन।आमतौर पर सभी के घरों में पैसा और मूल्यवान आभूषण रखने के लिए विशेष स्थान होता है। कुछ लोग पैसा तिजोरी में रखते है तो कुछ लोग अलमारी में, कुछ लोग किसी अन्य सुरक्षित स्थान पर ये चीजें रखते हैं। क्या आप जानते हैं, वास्तु के अनुसार पैसा रखने के लिए उत्तर दिशा को महत्वपूर्ण बताया है। यदि इस दिशा में पैसा रखा जाता है तो धन के देवी-देवता कुबेर देव और महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त हो सकती है। इस दिशा में धन रखना शुभ माना गया है। सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा के सिद्धांत पर काम करता है वास्तु वास्तु...
    October 31, 12:16 PM
  • अबीर के इन उपायों से डिप्रेशन हो सकता है दूर, बढ़ सकती हैं खुशियां
    उज्जैन। यदि कोई इंसान लाख कोशिश करे और उसके बाद भी मन मुताबिक काम नहीं होता है तो उसे निराशा घेर लेती है। निराशा के कारण किसी भी काम को व्यक्ति का मन एकाग्रता से करने नहीं देता है। इस कारण कई प्रयास करने के बावजूद भी असफलताओं का मुंह देखना पड़ता है। शास्त्रों में निराशा को दूर करने के लिए कई उपाय बताए गए हैं। इन उपायों में से एक उपाय यह है किए हर रोज शिवलिंग पर अबीर अर्पित करें। इस उपाय से मन शांत होता है और शिवजी की कृपा से कार्यों में सफलता मिलने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। यहां जानिए अबीर के कुछ...
    October 30, 03:01 PM
  • 2 को शनि बदलेगा राशि, जानिए शनिदेव को प्रसन्न करने के उपाय
    उज्जैन। धर्म ग्रंथों के अनुसार शनिदेव को ग्रहों में न्यायाधीश का पद प्राप्त है। मनुष्य के अच्छे-बुरे कर्मों का फल शनिदेव ही उसे देते हैं। जिस व्यक्ति पर शनिदेव की टेड़ी नजर पड़ जाए, वह थोड़े ही समय में राजा से रंक बन जाता है और जिस पर शनिदेव प्रसन्न हो जाएं वह मालामाल हो जाता है। जिस किसी पर भी शनिदेव की साढ़ेसाती या ढय्या रहती है, उसे उस समय बहुत ही मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। शनि हर ढाई साल में राशि परिवर्तन करता है। इस बार 2 नवंबर, रविवार से शनि राशि बदल रहा है (पंचांग भेद के कारण तिथि में...
    October 30, 01:50 PM
  • आपकी कुंडली के किस भाव में है शनि, जानिए उसका असर
    उज्जैन। शनि ऐसा ग्रह है जिसके प्रति सभी का डर बना रहता है। कुंडली में शनि जिस भाव में होता है, उसी के अनुसार आपको पूरे जीवन सुख-दुख प्राप्त होते हैं। कार्यों में सफलता मिलेगी या नहीं, यह भी शनि की स्थिति पर भी निर्भर करता है। यहां जानिए शनि कुंडली के किस भाव में कैसा फल देता है... लग्न यानी प्रथम भाव में शनि हो तो... जिस व्यक्ति की कुंडली में शनि प्रथम भाव में हो, वह व्यक्ति राजा के समान जीवन जीने वाला होता है। यदि शनि वक्री है या नीच राशि में होकर अशुभ फल देने वाला है तो व्यक्ति रोगी, गरीब और बुरे...
    October 30, 06:00 AM
  • किन राशियों के लिए 2 नवंबर से बदलेगी शनि की साढ़ेसाती और ढय्या
    उज्जैन। अगले महीने की शुरुआत में 2 नवंबर से शनि राशि बदल रहा है। शनि तुला से राशि बदलकर वृश्चिक में चले जाएगा। इस कारण शनि की साढ़ेसाती और ढय्या की स्थितियां भी बदल जाएंगी। यहां जानिए किस राशि पर शनि की साढ़ेसाती और ढय्या की स्थितियां किस प्रकार रहेंगी... शनि की साढ़ेसाती की स्थिति शनि अभी तुला राशि में स्थित है, अत: इस समय कन्या, तुला और वृश्चिक राशि पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है। 2 नवंबर से तुला, वृश्चिक और धनु राशि पर शनि की साढ़ेसाती रहेगी। - कन्या राशि से साढ़ेसाती पूरी तरह उतर जाएगी। -...
    October 29, 02:12 PM
  • छठ पूजा पर करें ये 7 आसान उपाय, प्रसन्न होंगे सूर्यदेव
    उज्जैन। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को छठ पूजा का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 29 अक्टूबर, बुधवार को है। इस दिन भगवान सूर्य की पूजा करने का भी विधान है। कुंडली में स्थित सूर्य की स्थिति के कारण ही लोगों को सफलता और असफलता जैसी स्थिति का सामना करना पड़ता है। ज्योतिष के अनुसार यदि इस दिन सूर्यदेव को प्रसन्न करने के लिए कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो उसका विशेष फल मिलता है और सूर्यदेव प्रसन्न होते हैं। छठ पूजा पर किए जाने वाले उपाय इस प्रकार हैं- 1- जिन लोगों की कुंडली में सूर्य नीच की...
    October 29, 07:49 AM
  • जानिए कुंडली में कैसे बनता है सभी सुख देने वाला नीच भंग राजयोग
    उज्जैन।आमतौर पर यही धारण है कि कुंडली में नीच ग्रह या अशुभ ग्रह हमेशा बुरा फल ही प्रदान करते हैं, हमेशा दुख और परेशानियां ही देते हैं, ये ग्रह मेहनत अधिक करवाते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। ज्योतिष में कुछ ऐसी परिस्थितियां बताई गई हैं, जब कोई नीच ग्रह भी व्यक्ति को राजयोग के सुख और समृद्धि प्रदान कर सकता है। यदि कोई नीच ग्रह राजयोग बनाता है तो उसे नीच भंग राजयोग कहा जाता है।यहां जानिए इस योग से जुड़ी खास बातें,नीच भंग राजयोग कैसे बनता है... ज्योतिष के अनुसार यदि नवमांश कुंडली में ग्रह उच्च राशि में...
    October 29, 06:00 AM
  • पितर देवता के लिए छठ पूजा से शुरु करें सूर्य को जल चढ़ाना
    उज्जैन। अभी देश के कई हिस्सों में छठ पूजा का उत्साह बना हुआ है। छठ पूजा सूर्य देव की आराधना का पर्व है। इस दिन सूर्य को जल अर्पित करने पर अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है और जाने-अनजाने में किए गए पापों से मुक्ति मिलती है। सूर्य को प्रत्यक्ष देवता माना गया है यानी सूर्य ऐसे भगवान हैं, जिन्हें हम आसानी से देख सकते हैं, दर्शन कर सकते हैं और प्रत्यक्ष पूजन कर सकते हैं। इसी वजह से छठ पूजा पर सभी पवित्र नदियों पर सूर्य की प्रसन्नता के लिए श्रद्धालु पहुंचते हैं और जल अर्पित करते हैं। सूर्योदय और...
    October 28, 04:22 PM
  • इस राशि के लोग होते हैं जिद्दी और आकर्षक स्वभाव वाले
    उज्जैन। जिन लोगों के नाम का पहला अक्षर तो, ला, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू. है, वे वृश्चिक राशि के होते हैं। वृश्चिक राशि के लोग आदर्श प्रेमी होते हैं। अपने प्रेम के लिए कुछ भी कर सकते हैं और सब कुछ त्याग भी सकते हैं। ये लोग जिद्दी स्वभाव के होते हैं। काम के प्रति लगन रखते हैं। आकर्षक व्यक्तित्व के कारण दूसरों को प्रभावित करने की योग्यता भी रखते हैं। इन्हें आत्मविश्वास के कारण कार्यों में सफलता भी मिलती है। वृश्चिक राशि का परिचय वृश्चिक राशि का चिह्न बिच्छू है और यह राशि उत्तर दिशा की प्रतीक है।...
    October 28, 12:59 PM
विज्ञापन
 

बड़ी खबरें

 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें